बहुमंजिली पार्किंग प्रणाली कागजों में दफन

बहुमंजिली पार्किंग प्रणाली कागजों में दफन
parking

Ashok Rajpurohit | Updated: 26 Jul 2019, 06:55:17 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

खल रही पार्किंग स्थलों की कमी - स्थलों के अभाव के चलते वाहन चालक सड़कों के किनारे कर रहे वाहन पार्क
-साहुकारपेट इलाके में पार्किंग की व्यवस्था का अभाव

चेन्नई. महानगर में पार्किंग की कमी के चलते वाहन चालक परेशान है। जिस तरह महानगर की आबादी में इजाफा हो रहा है उससे कहीं अधिक वाहनों की तादाद में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बेतरतीब बसे चेन्नई में इन दिनों पार्किंग की समस्या दिन-ब-दिन गहराती जा रही है। महानगर का शायद ही कोई इलाका होगा जहां पार्किंग की व्यवस्था बेहतर हो। परेशानी महानगर के भीड़भााड़ वाले इलाकों में अधिक है। वाणिज्यिक इलाकों में भी पार्किंग की कमी साफ नजर आती है। ऐसे में वाहन चालकों को अपने वाहन सड़क किनारे या पार्किंग निषेध क्षेत्र में पार्क करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचता। सरकार को पार्किंग की दिशा में ध्यान देना चाहिए। पार्किंग को विकसित करने के लिए महानगर में बहुमंजिला पार्किंग विकसित करने की योजना तो कई बार बनी लेकिन यह योजना भी कागजों में दफन हो कर रह गई। पिछले दिनों टीनगर इलाके में बहुमंजिला पार्किंग के लिए काम तो शुरू किया गया लेकिन करीब चार महीने बाद भी कोई उल्लेखनीय प्रगति नहीं हो पाई है। साहुकारपेट इलाके में वाणिज्यिक गतिविधियां काफी होती है। कई प्रमुख बाजार इसी इलाके में है। ऐसे में रोजाना हजारों लोग खरीदारी के लिए पहुंचते हैं। लेकिन पार्किंग की समस्या प्रमुख है। इलाके में करीब एक दर्जन से अधिक बड़े बाजार है। लेकिन पार्किंग के लिए केवल एक ही जगह है। कुछ स्थानों पर सड़क किनारे पार्किंग की व्यवस्था की है। सी-1 पुलिस स्टेशन के पास लम्बे समय से पार्किंग स्थल बना रखा है। इन दिनों यहां कार पार्किंग की व्यवस्था है। दुपहिया वाहनों के लिए भी एनएससी बोस रोड के एक तरफ कुछ जगह दुपहिया वाहन पार्क किए जा सकते हैं। साथ ही रतन बाजार में भी एक तरफ सड़क किनारे पार्किंग की व्यवस्था की हुई है। इलाके में कुछ खाली पड़े भूखण्डों पर भी वाहन पार्किंग की व्यवस्था हैं लेकिन वहां बहुत कम वाहन पार्क किए जा सकते हैं। ऐसे में पार्किंग की कमी साफ नजर आती है। यहां व्यापारियों के साथ ही दिनभर ग्राहकों का आना-जना लगा रहता है। साथ ही स्थानीय बाशिदें भी अपने वाहन घर या काम्पलेक्स के बाहर ही खड़े करते हैं। ऐसे में कई बार तो यातायात भी बाधित नजर आता है।
.....................
आम जनता का मिले सहयोग
विभिन्न सड़कों के पास एक तरफ रस्सी लगाकर पार्किंग की व्यवस्था की गई है। अगर इसमें आमजन का सहयोग मिलें तो ह व्यवस्था और कारगर साबित हो सकती है। समूचे साहुकारपेट इलाके में केवल फ्लॉवर बाजार पुलिस स्टेशन के पास ही पार्किंग की व्यवस्था है। यदि ऐसी पार्किंग की व्यवस्था दो-तीन जगह और कर दी जाती है तो वाहन चालकों को राहत मिल सकती है।
-भरत चौधरी, इलेक्ट्रिक व्यापारी, साहुकारपेट।
...........................
यातायात भी होता है बाधित
इलाके में पार्किंग की समस्या विकट है। प्रशासन भी अपनी जिम्मेदारी से विमुख हो रहा है तो आमजन का अपेक्षित सहयोग भी नहीं मिल रहा है। इलाके में कई बहुमंजिला इमारतें बनी हुई हैं लेकिन पार्किंग की अनदेखी की गई है। पार्किंग की कोई व्यवस्था न होने से बिल्डिंगों के आगे ही वाहन सड़क पर ही पार्क कर दिए जाते हैं। इससे अक्सर कई बार यातायात भी बाधित होता है।
-पेपसिंह राठौड़, व्यापारी, साहुकारपेट।
........................
ध्यान दें प्रशासन
साहुकारपेट में पार्किंग की समस्या दिनोंदिन गहराती जा रही है। लोग मुख्य मार्ग पर ही अपने वाहन पार्क कर देते हैं। इससे यातायात में व्यवधान होता है। शायद ही कोई गली ऐसी होगी जिसमें वाहन पार्क न किए गए हो। कई जगह नो पार्किंग की जगह भी वाहन पार्क किए दिखाई देते हैं।
-बाबूलाल केडिया, बिजनसमैन, चेन्नई।
................................

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned