scriptPassengers troubled by MTC bus strike | एमटीसी बसों की हड़ताल से परेशान हुए यात्री | Patrika News

एमटीसी बसों की हड़ताल से परेशान हुए यात्री

पिछले महीने का वेतन नहीं मिलने से नाराज एमटीसी कर्मियों की अंशकालिक हड़ताल ने थोड़ी देर के लिए यात्रियों को काफी परेशान किया। हालांकि परिवहन...

चेन्नई

Published: July 02, 2019 12:38:51 am

चेन्नई।पिछले महीने का वेतन नहीं मिलने से नाराज एमटीसी कर्मियों की अंशकालिक हड़ताल ने थोड़ी देर के लिए यात्रियों को काफी परेशान किया। हालांकि परिवहन मंत्री विजय भास्कर से शाम तक तनख्वाह मिलने का आश्वासन मिलने के बाद एमटीसी कर्मचारियों ने अपनी हड़ताल वापस ले ली और कुछ ही देर बाद बसों की आवाजाही सामान्य रूप से होने लगी। इससे पूर्व बसों की अचानक हुई हड़ताल से चेन्नईवासियों को आवागमन में बेहद जद्दोजहद का सामना करना पड़ा।

Passengers troubled by MTC bus strike
Passengers troubled by MTC bus strike

लोग सामान्यत: रविवार के अवकाश के बाद सोमवार को अपनी ड्यूटी पर जाने के लिए तय समय पर घर से निकलते हैं, लेकिन सोमवार को जब नौकरी पेशा लोग अपने घर से बस स्टॉप पर आए तो उन्हें महसूस होने लगा कि सडक़ पर एमटीसी सेवा नहीं के बराबर है। लोगों को गंतव्य तक पहुंचने में परेशानियों का सामना करना पड़ा। हालांकि महानगर के कई रूटों पर रेडलाइन बसें जो डीलक्स श्रेणी में चलाई जाती है की सर्विस कई रूटों पर नजर आई। लेकिन उन बसों में भी इतनी भीड़ थी कि यात्रियों को पैर रखने की जगह नहीं मिल रही थी।

बस रूट संख्या २४२ के कंडक्टर आरमुगम ने बताया कि जब से यह रेडलाइन बसें एमटीसी के बेड़े में शामिल हुई हैं तब से पहली बार इस बस में इतनी भारी तादाद में सवारी मिली है। उन्होंने कहा कि अन्य बसों की तुलना में किराया अधिक होने के कारण सामान्य यात्री इस बस में चढऩे से कतराते हैं। लेकिन बस नहीं मिलने के कारण लोग ज्यादा किराया चुकाकर भी इसमें सवार होने को तैयार दिखे।

वहीं ब्रॉडवे से केके नगर तक चलने वाली बस संख्या १७डी, के कंडक्टर नादमुनी एगमोर में खचाखच भरी बस में चढने की कोशिश कर रहे यात्रियों को पीछे आने वाली बस में चढने की सलाह देते नजर आए। नादमुनी के अनुसार बसों में बिल्कुल भी जगह नहीं है।

मनली से ब्रॉडवे तक आने वाली बस संख्या १६४ में भारी भीड़ के कारण बस मूलकडै में बे्रकडाउन हो गई और यात्रियों को अन्य साधनों की तलाश में घंटो इंतजार करना पड़ा।

टाटा मैजिक और शेयर ऑटो वालों की चांदी

जहां सोमवार को दोपहर तक एमटीसी के बस बंद होने का खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ा वहीं अन्य सवारी गाडिय़ां शेयर आटो और टाटा मैजिक वालों की कमाई में भारी इजाफा हुआ। बस नहीं मिलने पर यात्री शेयर ऑटो और टाटा मैजिक से गंतव्य तक पहुंचे।

एमटीसी बस नहीं मिलने के कारण नौकरी पेशा लोग अपने ऑफिस समय पर नहीं पहुंच पाए। माधवरम से गिंडी जाने वाले अरविंदम ने बताया कि उसे पता नहीं था कि बस की हड़ताल है, एक घंटे तक बस नहीं आने के बाद १० बजे माधवरम से मूलकडै के लिए शेयर ऑटो पकड़ा लेकिन वहां से कोई साधन नहीं मिला, इसलिए वापस घर आना पड़ा।
इसी तरह महानगर के अन्य हिस्सों में एमटीसी के सेवा बंद होने के कारण यात्रियों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में के लिए अन्य विकल्प तलाशने पड़े।

 

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

QUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देशWeather Update: दिल्ली में आज भी बारिश के आसार, इन राज्यों में आंधी-तूफान की संभावनाहरियाणा के जींद में सड़क हादसा: ट्रक और पिकअप की टक्‍कर में 6 की मौत, 17 घायलटाइम मैगजीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट, जेलेंस्की, पुतिन के साथ 3 भारतीय भी शामिलHaj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाआ गया प्लास्टिक कचरे का सफाया करने वाला नया एंजाइमWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हराया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.