जनसुनवाई में कम पहुंच रहे हैं लोग

Arvind Mohan Sharma

Publish: Apr, 17 2018 01:48:00 PM (IST)

Chennai, Tamil Nadu, India
जनसुनवाई में कम पहुंच रहे हैं लोग

जो भी लोग आए उनकी समस्या सुनी ...

कोयम्बत्तूर . गांवों में खेती बाड़ी के काम में व्यस्तता व गर्मी के कारण जनसुनवाई में लोग कम नजर आए। हालांकि जिला कलक्टर सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे। जो भी लोग आए उनकी समस्या सुनी गई। समाधान का भरोसा दिलाया गया।पहले भी लोग यह मांग करते आए हैं कि उनकी ज्यादातर समस्याएं ऐसी हौं जिन्हें पंचायत समिति , तहसील व उपखण्ड स्तर के अधिकारी ही सुलझा सकते हैं। बल्कि उन समस्याओं के समाधान के लिए वे ही जिम्मेदार हैं। कलक्ट्रेट से उन्हीं के पास आदेश जाते हैं।लोगों ने सुझाव दिया कि कलक्ट्रेट की तरह उपखण्ड स्तर पर भी माह में एक बार ऐसी सुनवाई हो जिसमें कलक्टर व जिला अधिकारी पहुंचे। अभी जिले के दूरस्थ इलाकों से लोगों को सुबह ही सुनवाई के लिए रवाना होना पड़ता है। पूरा दिन इसमें ही लग जाता है। आने जाने का किराया व शहर में खाने पीने का खर्च भी होता है।

 



सूने मकान से गहने व कीमती सामान चोरी
कोयम्बत्तूर. शहर के पास वेल्लाूलर में चोर एक मकान से सोने के गहने व कीमती सामान चुरा ले गए। चोरों ने घर का कोना-कोना छान मारा व जो भी कीमती सामान मिला ले गए। वारदात के वक्त मकान मालिक चेन्नई गए हुए थे। वे लौट कर आए तो चोरी की घटना का पता लगा। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर चोरों की तलाश शुरु कर दी है। पुलिस ने बताया कि वेलालूर के एलजी नगर में रहने वाले रविचन्द्रन की बेटी की शादी 10 दिन पहले हुई थी। शादी के बाद के समारोह चेन्नई में होने के कारण वे परिवार सहित वहां चले गए थे। बेटी के लिए बनवाए गए सोने के गहन व समारोह में मिले कीमती गिफ्ट वे वेल्लालूर के अपने मकान में स्टील की आलमारी में रख गए। चोरों ने मकान सूना देख कर आराम से वारदात को अंजाम दिया। उल्लेखनीय है कि वेल्लालूर के लोग प्रशासन को पहले भी अवगत करा चुके हैं कि यहां कचरागाह के आसपास खाली पड़े मकानों में समजाकंटक आते जाते रहते हैं। डम्पिंगयार्ड के आसपास ऐसे लोग भी घूमते रहते हैं, जो कचरे में से लोहा , प्लास्टिक या फिर अन्य ऐसा कबाड़ निकलना चाहते हैं।इनमें कई ऐसे भी हैं जो मौके -बेमौके चोरी करने से भी नहीं चूकते।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned