अब प्रार्थना स्थल भी खोल दिए जाएं

हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर: सोमवार को सुनवाई की उम्मीद, याची आरके जलील ने जनहित याचिका में कहा कि नॉन कंटेनमेंट जोन में दुकानें व दफ्तर आदि खोले जाने के आदेश हो चुके हैं। लिहाजा, सरकार को धार्मिक स्थलों को भी खोलने के आदेश दिए जाएं।

By: MAGAN DARMOLA

Updated: 10 May 2020, 12:34 AM IST

चेन्नई. धार्मिक प्रार्थना स्थलों मसलन, मंदिर, मस्जिद व चर्च को खोलने के निर्देश जारी करने की याचिका हाईकोर्ट में दाखिल हुई है। इस पर सोमवार को सुनवाई की उम्मीद है। याची आरके जलील ने जनहित याचिका में कहा कि नॉन कंटेनमेंट जोन में दुकानें व दफ्तर आदि खोले जाने के आदेश हो चुके हैं। लिहाजा, सरकार को धार्मिक स्थलों को भी खोलने के आदेश दिए जाएं।

याची के अनुसार कंटेनमेंट इलाकों को छोडक़र दुकानों, प्रतिष्ठानों व कार्यालयों के खोलने की छूट है। आइटी कंपनियों, एमएसएमइ व उपक्रमों को भी कार्य शुरू करने का आदेश हो चुका है। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य शर्तों के साथ धार्मिक पूजा स्थलों को भी खोला जाना चाहिए।

हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिका में उनका यह भी कहना था कि मुस्लिमों पाक महीना रमजान का होता है। ऐसे में मजहबी भावनाओं को समझते हुए कोविड-१९ की गाइडलाइन के अनुरूप यह छूट दी जानी चाहिए।

coronavirus COVID-19 COVID-19 virus
MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned