चेन्नई में पीजी डॉक्टर ने होस्टल के तीसरे माले से कूदकर की आत्महत्या

कोविड-19 वार्ड में उसकी ड्यूटी नहीं लगी थी।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 20 Jul 2020, 07:53 PM IST

चेन्नई.

स्टेनली मेडिकल कॉलेज अस्पताल के 24 वर्षीय पोस्ट ग्रेजुएट डॉक्टर एम. कण्णन ने अज्ञात कारणों से सोमवार अलसुबह अस्पताल के हॉस्टल की तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। वह सुबह साढ़े तीन बजे इमारत से कूद गया और रक्तरंजित हालत में जमीन पर पड़ा रहा। सुबह करीब 5 बजे सुरक्षाकर्मी ने डॉक्टर कण्णन को देखकर पुलिस और एम्बुलेंस को सूचित किया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और गंभीर रूप से घायल डॉक्टर को एम्स के आपातकालीन वार्ड में भर्ती कराया गया। लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पीजी डॉक्टर कण्णन स्टेनली मेडिकल कॉलेज अस्पताल के हड्डी रोग सर्जरी विभाग में पहले वर्ष का छात्र था। वह दिंडीगुल जिला के उडुमलपेट्टै का रहने वाला है। उसने अंडर ग्रेजुएशन की पढ़ाई तंजावुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल से पूरी की। मई महीने में चेन्नई आकर पीजी कॉर्स में दाखिला लिया था।

अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि वह कोविड-19 वार्ड में ड्यूटी नहीं दे रहा था। वह रविवार को काम पूरा करने के बाद होस्टल चला गया। वहां उसने पीजी छात्रों के साथ भोजन किया और सो गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया और आगे की कार्रवाई की जा रही है। घटना को लेकर पुलिस का कहना है कि आत्महत्या के पीछे क्या कारण रहे अभी पुख्ता तरीके से पता नहीं चल सका है। बताया जा रहा है कि उसके अभिभवकों ने उसका विवाह तय कर दिया था। घटना के बाद वाशरमेनपेट पुलिस हॉस्टल के अन्य डॉक्टरों से पूछताछ कर रही है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
अगली कहानी
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned