मोदी और जिनपिंग आतंकवाद को दिखाएंगे आंखें

- महाबलीपुरम अनौपचारिक शिखर वार्ता: pm-modi chinese-president-xi-jinping-meet Live Update: Mahabalipuram, narendra Modi in Tamilnadu, Chennai, Xi Jinping, Mahabaliputam

By: P S Kumar

Updated: 12 Oct 2019, 10:52 AM IST

चेन्नई.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच इन्फ़ोर्मल समिट के तहत डिप्लमैटिक वार्ता शुरू होने में कुछ समय शेष है। दस बजे ECR के FISHERMEN कोव (Cove) में दस बजे वार्ता शुरू होगी। दोनों नेताओं ने शुक्रवार को रात्रि भोज पर संकेत दे दिए थे कि आतंकवाद बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

 

इस परिवेश में जिनपिंग ने मोदी के साथ मिलकर लोहा लेने को प्रतिबद्दत जताई है। वार्ता के बाद जारी होने वाले बयान में आतंकवाद के ख़िलाफ़ जंग को बात अवश्य होगी। चर्चा के अन्य मसलों में आर्थिक, सीमा का मसला, सांस्कृतिक मूल्यों का आदान प्रदान आदि शामिल होगा।

वार्ता दोपहर भोज के साथ समाप्त होगी और फिर जिनपिंग नेपाल के लिए उड़ान भरेंगे।

 

साथ पारंपरिक तमिल परिधान 'वेष्टि में शी का स्वागत

शुक्रवार को पीएम मोदी ने गर्मजोशी के साथ पारंपरिक तमिल परिधान 'वेष्टि' (सफेद धोती), आधी बांह की सफेद कमीज के साथ ही अंगवस्त्रम (अंगोछा) कंधे पर रखे नजर आए। पीएम मोदी ने दूसरे अनौपचारिक भारत-चीन शिखर सम्मेलन के लिए महाबलीपुरम पहुंचे शी का स्वागत किया।

 

पेशेवर गाइड की तरह बताते देखे गए

प्रधानमंत्री मोदी अर्जुन के तपस्या स्थल के पास शी से मिले और उन्हें चट्टान काटकर बनाए गए भव्य मंदिर के अंदर ले गए। मंदिर में प्रवेश करने के बाद मोदी चीनी नेता को यहां की नक्काशी और पारंपरिक सभ्यता व संस्कृति के बारे में बताते हुए देखे गए। फिर दोनों नेता अर्जुन की तपस्या मूर्तिकला के पास गए। पीएम मोदी एक पेशेवर गाइड की तरह शी को विशाल चट्टान पर उकेरी गई छवियों को बताते देखे गए।

Narendra Modi
Show More
P S Kumar Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned