जयललिता की मौत पर बनी शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग पर रोक

फिल्म की पटकथा जयललिता के अस्पताल में भर्ती होने और उनके निधन से जुड़ी घटनाओं के ताने-बाने पर आधारित

By: Santosh Tiwari

Published: 25 Nov 2018, 07:01 PM IST

  • मृत्यु के इर्द-गिर्द की घटनाओं पर आधारित
    सिटी पुलिस ने नहीं होने दी स्क्रीनिंग , कलाकार व निर्देशक जाएंगे अदालत
  • स्क्रीनिंग मदुरै मीडिया और फिल्म स्टडीज अकादमी में होनी थी
  • ४५ मिनट की इस शॉर्ट फिल्म में मदुरै के कुछ स्थानीय कलाकारों ने काम किया है

मदुरै. मदुरै शहर पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता की मौत के इर्द-गिर्द की घटनाओं पर आधारित शॉर्ट फिल्म की स्क्रीनिंग पर रोक लगा दी है। यह स्क्रीनिंग शुक्रवार को मदुरै मीडिया और फिल्म स्टडीज अकादमी में होनी थी। ४५ मिनट की इस शॉर्ट फिल्म में मदुरै के कुछ स्थानीय कलाकारों ने काम किया है। फिल्म की पटकथा जयललिता के अस्पताल में भर्ती होने और उनके निधन से जुड़ी घटनाओं के ताने-बाने पर आधारित है।
फिल्म के लेखक और निर्देशक इयाज (२८) ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता के अस्पताल में भर्ती होने के बाद राज्य में असमंजस का माहौल बन गया था और इलाज के दौरान उनकी मौत होना अब तक रहस्य बना हुआ है जिससे वे काफी प्रभावित हुए।
इयाज ने अस्पताल में इलाज और उनकी मौत के आसपास हुई घटनाओं की सूचनाओं को जुटाया और शॉर्ट फिल्म बनाई। इयाज इंडियन वेटनरी रिसर्च सेंटर के पूर्व कर्मचारी हैं लेकिन फिल्मों में रुचि होने के कारण चार साल पहले उन्होंने नौकरी छोड़ दी थी। उसके बाद उन्होंने आठ शॉर्ट फिल्मों में काम किया।
जयललिता की मौत पर आधारित फिल्म जैकलीन उनकी पहली फिल्म है जिसका लेखन और निर्देशन उन्होंने स्वयं किया है। फिल्म क्रू सदस्यों ने बताया कि फिल्म की शूटिंग एक साल पहले शुरू होकर पिछले महीने पूरी हो गई थी। फिल्म की स्क्रीनिंग से पहले पुलिस के हस्तक्षेप करने और स्क्रीनिंग रोकने पर कू्र के सदस्य पुलिस के रवैये से खफा है। पुलिस ने फिल्म में विवादास्पद दृश्य होने का हवाला देकर पेन ड्राइव जब्त कर ली। अब शॉर्ट फिल्म में काम करने वाले कलाकार और निर्देशक अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे।

Santosh Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned