फर्जी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का अधिकारी बनकर रेड डालने पहुंचे शख्स को पुलिस ने दबोचा

फर्जी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का अधिकारी बनकर रेड डालने पहुंचे शख्स को पुलिस ने दबोचा
Pollution Control Board: Chennai Police, Raid, Plastic unit

Purushotham Reddy | Updated: 17 Sep 2019, 07:26:45 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

सुंदरराज ने रेड न डालने और कंपनी सील न करने के एवज में पांख लाख रुपए मांगे।

चेन्नई.

खुद को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का अधिकारी बताकर रेड न डालने के एवज में पांच लाख रुपए की रिश्वत लेने पहुंचे एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आरोपित माधवरम निवासी सुदरराज से पूछताछ कर रही है। पूछताछ में सामने आया है कि वह कई लोगों को ठगी को शिकार बना चुका है। पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि उसने कितने लोगों को ठगा और कितनों से कितना रुपए ऐंठ लिए।

फर्जी अधिकारी, फर्जी रेड
प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अधिकारी बताते हुए दो दिन पहले रेडहिल्स के वड़पेरुपाक्कम के कन्नी अम्मन नगर पहुंचे प्लास्टिक विनिर्माण इकाईमें एक गोपनीय मामले में रेड डालने की बात कही। सुंदरराज ने इकाई के मालिक कुणाल (२५) जो वेपेरी के पूंदमल्ली हाईरोड स्थित अपार्टमेंट में रहते है, से मुलाकात की और उससे कहा कि उसके इकाई की काफी शिकायतें मिल रही है और आसपास के कई लोगों के उसके खिलाफ शिकायत की।

उसके कंपनी से काफी प्रदूषण निकलता है। शिकायत के बाद उसके कंपनी में रेड डालने वह आया है और रेड के बाद कंपनी को सील कर दिया जाएगा। कुणाल ने रेड न डालने की विनती की। कुणाल ने पैसों का लालच दिया जिसमें वह फंस गया। सुंदरराज ने रेड न डालने और कंपनी सील न करने के एवज में पांख लाख रुपए मांगे।

कुणाल ने उसे तीन लाख में मना लिया और उसे अगले दिन पैसे लेने आने को कहा। कुणाल को संदहे होने पर वह प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के कार्यालय पहुंचा जहां उसने अधिकारियों से सुनिश्चित किया कि उनके कार्यालय से ऐसा कोई अधिकारी को रेड डालने के लिए नहीं भेजा गया है।

पुलिस ने दबोचा
कुणाल ने शक होने पर मामले की सूचना रेडहिल्स पुलिस को दी जिसके बाद मिले निर्देशों के आधार पर दोनों पुलिसकर्मियों ने कथित प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी को भी दबोच लिया और रेडहिल्स थाना ले आए।

पुलिस ने दबोचे गए आरोपी से सख्ती से पूछताछ की। इस दौरान उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से एक प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का फर्जी आईडी कार्ड बरामद किया गया है। पुलिस ने बताया कि फिलहाल आरोपित से पूछताछ चल रही है और पुलिस इस बात की जानकारी कर रही है कि कथित तौर से फर्जी अधिकारी बनकर कितने लोगों को लूटा है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned