पोंगल पर्व शुरू बोगी के धुएं से हवाई सेवाएं प्रभावित

P S Kumar Vijayaraghwan

Publish: Jan, 13 2018 05:27:06 (IST)

Chennai, Tamil Nadu, India
पोंगल पर्व शुरू बोगी के धुएं से हवाई सेवाएं प्रभावित

अवकाश से पहले कॉलेजों व स्कूल में मनाया उत्सव

चार दिवसीय पोंगल की शुरुआत राज्यभर में शनिवार को बोगी पर्व के साथ हुई।

चेन्नई.

चार दिवसीय पोंगल की शुरुआत राज्यभर में शनिवार को बोगी पर्व के साथ हुई। पुराने वस्त्रों व वस्तुओं को जलाने की इस परम्परा का असर पर्यावरण पर दिखा जिसने दिल्ली के स्मॉग की याद दिला दी। स्मॉग की वजह से हवाई सेवाएं प्रभावित रहीं तो सड़क यातायात पर भी असर दिखाई दिया। राज्यभर में तीन दिनी अवकाश की शुरुआत की वजह से शिक्षण संस्थानों में भी परम्परागत तरीके से पोंगल मनाया गया। राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, मुख्यमंत्री ई. के. पलनीस्वामी, नेता प्रतिपक्ष एम. के. स्टालिन समेत अन्य नेताओं ने पोंगल की शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।


सूत्रों के अनुसार तमिलनाडु में पोंगल त्योहार से पहले मनाए जाने वाले बोगी बोनफायर की वजह से कोहरे जैसी स्थिति बनने और विजिबिलिटी कम होने का प्रभाव चेन्नई एयरपोर्ट पर विमान सेवाओं पर पड़ा है।


उल्लेखनीय है कि राज्य में फसल की कटाई के पर्व पोंगल को प्रमुख रूप से मनाया जाता है। पहले दिन पुराने कपड़ों और सामानों को जलाकर पुराने को विदा करने और नए वर्ष का स्वागत किया जाता है। लेकिन बड़े पैमाने पर बोनफायर के कारण दृश्यता (विजिबिलिटी) 50 मीटर से भी कम हो गई।


सुबह के वक्त का नजारा कुछ इस तरह था कि आसमान को धुएं की परत ने ढंक लिया हो। कुछ नहीं दिखाई देने की वजह से विमानों की आवाजाही प्रभावित हुई। हवाईअड्डे के अधिकारियों ने बताया कि अलसुबह ४ से आठ बजे के बीच चेन्नई में विमानों की आवाजाही प्रभावित हुई। अभी तक यहां आने वाले 18 विमानों का मार्ग बेंगलूरु और हैदराबाद की ओर मोड़ दिया गया है। ये विमान कुवैत, शारजाह और दिल्ली जैसे विभिन्न स्थानों से पहुंचे थे। इस दौरान हवाईअड्डे से किसी भी विमान ने उड़ान नहीं भरी। विमानों की आवाजाही में विलंब की वजह से सैकड़ों यात्री हवाई अड्डे पर इंतजार करते हुए दिखे। इस बीच धुएं के कारण दुपहिया वाहन चालकों ने हेडलाइट जलाकर यात्रा की।


जागरूकता कार्यक्रम बेअसर
सरकार की धुआं मुक्त बोगी पर्व को लेकर चलाया गया अभियान इस तरह के मंजर से मिट्टीपलीत हो गया। जबकि इसको लेकर व्यापक जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया। पुराने टायर आदि जलाने पर कड़ी कार्रवाई तक की चेतावनी दी गई थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned