सख्त लॉकडाउन से पहले सब्जियों के दामों में अचानक से आई उछाल

कोरोना के प्रसार पर पूरी तरह से नियंत्रण करने के लिए मुख्यमंत्री एमके स्टालिन द्वारा शनिवार को सोमवार से एक सप्ताह के लिए सख्त लॉकडाउन करने की घोषणा के बाद

By: Vishal Kesharwani

Updated: 23 May 2021, 07:01 PM IST


-मंत्री ने कार्रवाई की चेतावनी दी´
-व्यापारियों ने कहा कुछ समय के लिए दामों में हुई वृद्धि
ेचेन्नई. कोरोना के प्रसार पर पूरी तरह से नियंत्रण करने के लिए मुख्यमंत्री एमके स्टालिन द्वारा शनिवार को सोमवार से एक सप्ताह के लिए सख्त लॉकडाउन करने की घोषणा के बाद रविवार को चेन्नई समेत राज्य के अन्य जिलों में सब्जियों समेत अन्य खाद्य सामग्री के दाम आसमान छूने लगे थे। कुछ जगहों पर खरीदारी करते हुए लोगों में दहशत के दृश्य भी सामने आए। कई लोगों ने सब्जी की खरीदारी करने के बाद सोशल मीडिया के माध्यम से बताया कि सब्जियों के दामों को दोगुना या उससे भी अधिक में बेचा जा रहा है।

 

लोगों ने आरोप लगाया कि 30 रूपए किलो वाले आलू को 40 से 80 रूपए में बेचा जा रहा है, जबकि बैगन 65 और भिंडी 95 रूपए तक बेची जा रही थी। सवाल करने पर दुकानदारों ने दावा किया कि होलसेल में वृद्धि होने के बाद रिटेल में वृद्धि हुई है। बहस करने के बाद दुकानदारों ने सामान देने से भी इंकार कर दिया। एक सप्ताह के सख्त लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए मजबूरन अधिक दामों में ही सब्जियों को खरीदना पड़ा। इस प्रकार से दुकानदारों ने लोगों की मजबूरी का फायदा उठाया। इसी प्रकार से चेन्नई के अन्य सब्जी मार्केट में सब्जियों के अधिक दाम वसूले गए।

 

-सब्जियों की लोड आने में हुई देरी
कोयम्बेडु होलसेल मार्केट कॉप्लेक्स के राजशेखरन दुरैसामी ने दावा किया कि रविवार को कुछ घंटों के लिए ही दामों में वृद्धि हुई थी। ऐसा सिर्फ इसलिए हुआ क्योंकि सुबह सब्जियों की लोड आने में देरी हो गई थी। जिसके परिणाम स्वरूप ग्राहकों को कुछ घंटों के लिए अधिक दामों का सामना करना पड़ा।
फेडरेशन ऑफ टे्रडर्स एसोसिएशन के सदस्य ने बताया कि अधिक दामों की जानकारी के बाद उचित दाम सुनिश्चित करने को लेकर एसोसिएशन द्वारा तत्काल कदम उठाए गए। निर्देशों का पालन नहीं करने वाले सब्जी विके्रताओं के खिलाफ सख्ती कार्रवाई की जाएगी। सुबह के समय दामों में वृद्धि हुई थी और तत्काल हस्तक्षेप कर दामों को फिर से कम किया गया।

 

उन्होंने कहा कि विक्रेताओं को दामों में वृद्धि नहीं करने की चेतावनी दी गई है और निर्देश के बावजूद ऐसा करने वालों को संघ से बाहर कर दिया जाएगा। वनिगर संगनगलिन पेरामेपु के अध्यक्ष विक्रमराजा ने बताया कि घोषणा के मुताबिक कोयम्बेडु मार्केट बागवानी विभाग के साथ मिलकर सख्त लॉकडाउन के दौरान स्ट्रीटों में सब्जी और फल की विक्री सुनिश्चित कराएगा।

 


-मंत्री की चेतावनी
सब्जियों के अधिक दामों की खबरों के बाद खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री आर. सक्करपानी ने अधिक दाम में सब्जी बेचने वाले दुकानदारों और व्यापारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसे व्यापारियों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई करने में किसी प्रकार का संकोच नहीं करेगी। आशा करता हूं कि व्यापारी इस बात को समझ कर ऐसी परिस्थिति को होने से रोकेंगे। उन्होंने कहा कि इस प्रकार से अचानक दामों में वृद्धि कर लोगों की समस्याओं को बढ़ाया गया है। ऐसा करने वालों के खिलाफ शिकायत मिली तो तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned