पुदुचेरी में क्षत्रिय समाज का शक्ति प्रदर्शन, चुनाव की घोषणा के साथ हुंकार रैली

पुदुचेरी में क्षत्रिय समाज का शक्ति प्रदर्शन
- चुनाव की घोषणा के साथ हुंकार रैली

By: Ashok Rajpurohit

Published: 01 Mar 2021, 07:35 PM IST

पुदुचेरी. चुनाव की घोषणा के साथ ही यहां एएफटी मेदान में रैली कर पुदुचेरी क्षत्रिय समाज ने शक्ति प्रदर्शन किया। गाजियाबाद के मठाधीश्वर नारायणगिरि महाराज के सान्निध्य में आयोजित सम्मेलन में क्षत्रिय समाज को महत्ता देने वालों का समर्थन करने का आह्वान किया।
सम्मेलन के मुख्य अतिथि राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने सभी दलों को चेतावनी देते हुए कहा की 65 फीसदी क्षत्रिय आबादी वाले पुदुचेरी में वो पार्टी ही राज करेगी जो क्षत्रिय समाज को हर क्षेत्र में उचित प्रतिनिधित्व देगी। उन्होंने कहा, जिस प्रदेश की 30 मे से 21 सीटों की हार जीत का फेसला केवल क्षेत्रीय वोटर तय करता हो उस प्रदेश का मुख्यमंत्री एक क्षत्रिय ही होगा और इससे कम हमे कतई मंजूर नहीं।
इस मौके पर प्रवासी भाइयों को राजस्थानी भाषा में संबोधित करते हुए उन्हें स्थानीय क्षत्रियो के साथ मधुर सम्बद्ध बना कर आगे बढ़ने की सलाह दी। सभा के मुख्य आयोजक सेंथिल काउंडर उमड़ी भीड़ देखकर काफी उत्साहित नजर आए। उन्होंने कहा की इस क्षत्रिय सम्मलेन में किसी भी राजनैतिक पार्टी के नेता को आमंत्रित नहीं करने के बावजूद हजारो की संख्या में भीड़ जुटाकर सभी पार्टियों को यह संदेश देने की कोशिश है कि हमारे समाज का वोट किसी पार्टी की बपौती नहीं हैं।
सेंथिल काउंडर ने समाज के युवाओं से आह्वान किया कि आगामी चुनावों में वोट मांगने आने वाले नेताओ से समाज हित में सवाल जवाब करें। स्थानीय क्षत्रिय समाज के अलावा प्रवासी बंधु भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे। सम्मेलन में प्रवासी समाजसेवी रामसिंह राठोड भावण्डा, करणी सेना तमिलनाडु प्रदेश अध्यक्ष जयपालसिंह राखी, मीडिया प्रभारी विमल, भंवरसिह, नकुलसिह, किशोरसिंह, तनसिह भी मौजूद रहे। प्रवासी बंधुवो ने नारायणगिरि महाराज और महिपालसिंह मकराना का सम्मान किया।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned