तमिलनाडु कांग्रेस ने जताई मंशा : राहुल गांधी तमिलनाडु से लड़ें लोकसभा चुनाव

तमिलनाडु कांग्रेस ने जताई मंशा : राहुल गांधी तमिलनाडु से लड़ें लोकसभा चुनाव

P.S.Vijayaraghavan | Publish: Mar, 17 2019 06:44:18 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 06:44:19 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

तमिलनाडु कांग्रेस अध्यक्ष केएस अलगिरि ने कहा कि उत्तरप्रदेश की अमेठी के साथ ही राहुल तमिलनाडु की एक लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ें ताकि यह नहीं समझा जाए कि वे केवल उत्तर भारतीय राज्यों से ही जुड़े हैं

चेन्नई. तमिलनाडु कांग्रेस ने शनिवार को आग्रह किया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी तमिलनाडु की किसी एक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ें। ज्ञातव्य है कि डीएमके ने सबसे पहले राहुल गांधी को पीएम पद का उम्मीदवार प्रस्तावित किया था। तमिलनाडु में कांग्रेस और डीएमके के बीच गठबंधन है। वह राज्य की ९ और पुदुचेरी की एकमात्र लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रही है। तमिलनाडु कांग्रेस अध्यक्ष केएस अलगिरि ने शनिवार को कहा कि उत्तरप्रदेश की अमेठी के साथ ही राहुल तमिलनाडु की एक लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ें ताकि यह नहीं समझा जाए कि वे केवल उत्तर भारतीय राज्यों से ही जुड़े हैं।

अलगिरि ने डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन का हवाला दिया कि उन्होंने ही सबसे पहले चेन्नई में आयोजित एक आमसभा में राहुल गांधी का नाम बतौर पीएम उम्मीदवार आगे किया था। उन्होंने पूरा विश्वास दिखाया कि डीएमके अध्यक्ष के इस प्रस्ताव को तमिलनाडु की जनता का समर्थन प्राप्त है। डीएमके नीत धर्मनिरपेक्ष गठबंधन को सभी सीटों पर जीत हासिल होगी। कांग्रेस नेता ने कहा कि इस पृष्ठभूमि में प्रदेश यूनिट और जनता का राहुल गांधी से आग्रह है कि वे तमिलनाडु से भी लोकसभा चुनाव मैदान में उतरें। हमें विश्वास है कि राहुल गांधी को डीएमके नीत गठबंधन का भरपूर सहयोग मिलेगा।

वे बोले कि राहुल गांधी को जात-धर्म से परे नेता के रूप में सभी वर्ग की स्वीकारोक्ति हासिल है इसलिए उनको केवल उत्तरप्रदेश से जुड़ा नहीं माना जा सकता है। वे भारतीय नागरिकों के लिए थाती हैं। उनकी अपनी ख्याति है और वे देश की एकता और संप्रभुता के लिए समर्पित हैं। लिहाजा उत्तरप्रदेश की अमेठी सीट के अलावा तमिलनाडु से भी राहुल गांधी को चुनाव लडऩा चाहिए।

अलगिरि ने उम्मीद जताई कि राहुल गांधी तमिलनाडु की जनता की इच्छा का आदर करेंगे। ऐसा करते हुए वे उत्तर और दक्षिण को जोडऩे वाले नेता बन जाएंगे। कांग्रेस नेता ने कालाधन वापसी और कृषकों की आय दुगुनी करने जैसे वादे पूरे करने में विफल रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की आलोचना की। उन्होंने राज्य के एआईएडीएमके नीत भाजपा गठबंधन को अवसरवादी बताया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned