रामदास ने की टिक-टॉक एप के खिलाफ कार्रवाई की मांग

रामदास ने की टिक-टॉक एप के खिलाफ कार्रवाई की मांग

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Jan, 14 2019 11:01:07 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

पीएमके संस्थापक एस. रामदास ने मंगलवार को कहा कि किशोरों के लिए टिक टॉक एप्लीकेशन एक नशे की तरह हो चुका है, राज्य सरकार को...

चेन्नई।पीएमके संस्थापक एस. रामदास ने मंगलवार को कहा कि किशोरों के लिए टिक टॉक एप्लीकेशन एक नशे की तरह हो चुका है, राज्य सरकार को इसके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि टिक-टॉक युवा पीढ़ी को प्रभावित करता चला जा रहा है इससे लोगों की आजीविका पर असर पड़ेगा। जो लोग इसका इस्तेमाल करते हैं उनके लिए यह एक ड्रग की तरह हो चुका है। ऐप में शेयर किए जाने वाले विडियो पर किसी प्रकार की निगरानी नहीं रखी जा रही है, जो कि खतरे से खाली नहीं है। उन्होंने कहा इस ऐप का इस्तेमाल करने वाले बहुत सारे लोग हकीकत को भूलते हुए समय व्यर्थ करने में लगे है।

एप्लीकेशन विशेष कर किशोरों के लिए तो बहुत ही खतरनाक है। उन्होंने कहा इंडोनेशिया सरकार ने तो इस एप्लीकेशन पर प्रतिबंध भी लगा दिया है और बहुत सारे अन्य देश इसके बुरे प्रभाव पर विचार कर रहे हंै। ऐसे हालात में राज्य सरकार को भी एप्लीकेशन में निगरानी रखते हुए नियंत्रण करने के लिए आगे आना चाहिए।

साथ ही रामदास ने किशोरों के परिजनों से अपने बच्चों को इस ड्रग से बचाने का आग्रह किया। टिक टॉक एक विडियो शेयरिंग ऐप है जहां पर लोग खुद की शॉर्ट क्लिप लेकर शेयर कर सकते हैं। लाखों किशोर इस ऐप का इस्तेमाल भी कर रहे हैं लेकिन ऐसी जानकारी मिली है कि ऐप के माध्यम से किशोरों तक आपत्तिजनक विडियो भी पहुंच रहे हैं।


एआईएडीएमके, डीएमके ने शुरू की तैयारी

चुनाव आयोग द्वारा सोमवार को तिरुवारूर सीट पर उपचुनाव की घोषणा के बाद एआईएडीएमके और डीएमके ने मंगलवार से विधानसभा सीट के लिए अपने उम्मीदवार के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी। एआईएडीएमके ने चुनाव लडऩे के लिए तैयार पार्टी पदाधिकारियों से २ और ३ जनवरी तक २५ हजार का भुगतान कर आवेदन पत्र प्राप्त करने का आग्रह किया है। उसके बाद चार जनवरी को फार्म की जांच कर उम्मीदवार का चयन किया जाएगा। इसी प्रकार डीएमके ने घोषणा की है कि अन्ना अरिवालयम में ४ और ५ जनवरी को तिरुवारूर विधानसभा क्षेत्र के उम्मीदवार के चयन के लिए साक्षात्कार होगा।

चुनाव आयोग ने उपचुनाव के रिटर्निंग आफिसर के लिए मुरुगदास के नाम की घोषणा की है। उपचुनाव का नामांकन ३ जनवरी से शुरू होकर १० जनवरी चलेगा। इससे पहले एमडीएमके महासचिव वाइको और सीपीआई के राज्य सचिव आर. मुत्तअरसन ने कहा कि उपचुनाव में उनकी पार्टी डीएमके का समर्थन करेगी।

उल्लेखनीय है कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. एम. करुणानिधि के निधन से खाली हुई तिरुवारुर विधानसभा सीट पर आगामी २८ जनवरी को उपचुनाव होगा और ३१ को मतगणना होगी। उपचुनाव की घोषणा के साथ ही जिले में आचार संहिता भी लागू कर दी गई है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned