मार्केट राज्यस्तरीय, रोड चलने लायक नहीं!

मार्केट राज्यस्तरीय, रोड चलने लायक नहीं!
मार्केट राज्यस्तरीय, रोड चलने लायक नहीं!

Dhannalal Sharma | Updated: 09 Oct 2019, 03:14:27 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

बाइक का गियर, क्लच और ब्रेक तीनों का उपयोग बहुत (High use of break and gear) ही ज्यादा करना पड़ता है। वाहनों के भारी आवागमन से धूल उडऩे के कारण आंखों में (Dust in eyes) मिट्टी भर जाती है।

चेन्नई. कोयम्बेडु बस टर्मिनस के पश्चिमी हिस्से में बने इलाके ऐसे हैं जिन पर कभी पैदल यात्रियों को भी निकलने की जगह भी आसानी से नहीं मिल पाती है। इसी इलाके में स्थित कोयम्बेडु मार्केट जिसमें राष्ट्रीय स्तर के सब्जी, फल व फूल के मार्केट हैं इसलिए इस ओर जाने वाली रोड पर हमेशा हल्के से भारी वाहनों का लगातार आवागमन होता है। इसी रोड से बाहर जाने वाली राज्य परिवहन निगम एवं एमटीसी बसों के अलावा सब्जी-फलों की लॉरियों एवं ग्राहकों का आवागमन होता है। कोयम्बेडु मार्केट से हर दिन करोड़ों का व्यवसाय होता है। इसके बावजूद विगत एक साल से यह रोड बिलकुल जीर्ण-शीर्ण हालत में है।
प्रशासन की अनदेखी
कोयम्बेडु मार्केट से हर साल सरकार को करोड़ों का कर मिलता है। इसके बावजूद प्रशासन ने इस रोड को पूरी तरह अनदेखा कर रखा है। सड़क की हालत इतनी खराब है कि बड़े वाहन तो क्या छोटे दुपहिया एवं कारें भी कड़ी मशक्कर पार कर पाते हैं। बारिश होने पर तो इस पर से गुजरना बहुत मुश्किल हो जाता है क्योंकि इस पर पड़े गड्ढों में पानी भर जाता है एवं कीचड़ जमा हो जाता है।
पता नहीं चलता सड़क का
कोयम्बेडु मार्केट रोड से लेकर पूंदमल्ली हाई रोड तक रोड की हालत इतनी बिगड़ चुकी है कि यह पता नहीं चलता कि सड़क में गड्ढे हैं या फिर गड्ढों में सड़क। सड़क की जर्जर हालत के कारण वाहन चालकों का यहां से बाहर जाना भी बेहद कठीन हो जाता है। इस मार्ग से नियमित आवाजाही कर रहे बाइक सवार राकेश सिंह का कहना था कि बाइक का गियर, क्लच और ब्रेक तीनों का उपयोग बहुत ही ज्यादा करना पड़ता है। वाहनों के भारी आवागमन से धूल उडऩे के कारण आंखों में मिट्टी भर जाती है।
रात को ज्यादा खतरनाक
इसी प्रकार एक अन्य बाइक सवार महेंद्रन का कहना था कि इस सड़क पर अक्सर भारी वाहन खराब हो जाते हंै। वजन अधिक होने के कारण ट्रक चालक इस गड्ढायुक्त सड़क से गुजरने मे ंपूरी सावधानी बरतते हैं। एक बस चालक देवेंद्रन ने बताया कि इस सड़क की हालत सबसे अधिक पूदमल्ली हाई रोड की चढ़ाई पर दयनीय है। रात के समय यहां से बस निकालना खतरे से खाली नहीं है। थोड़ी सी असावधानी से भी बड़े हादसे हो सकते हैं। यह बात सरकार को समझनी चाहिए। उन्होंने कहा पूंदमल्ली हाई रोड पर बस चढ़ाने के लिए माकूल जगह का भी घोर अभाव है जबकि सामने से भी वाहनों की आवाजाही लगी रहती है। इतनी परेशानी होने के बावजूद सरकार और ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन यदि इस सड़क को बनाने के प्रति उदासीन है तो यह चिंताजनक है। नेरकुंड्रम निवासी आर विल्सन का कहना था कि सरकार को कोयम्बेडु मार्केट से करोड़ों की कमाई होती है फिर भी इतनी सरकार का ध्यान इस सड़क की यह दशा पर नहीं जाता है। उन्होंने कहा कि सीएमडी अध्यक्ष राज्य के उपमुख्यमंत्री हैं फिर भी इस सड़क की हालत सरकार की अनदेखी को दर्शाता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned