Crime: बुजुर्ग को लूटने वाला गिरफ्त में

कोयम्बेडु koyambedu के पास एक बुजुर्ग को लूटने वाले लोगों robber को पुलिस ने कुछ ही घंटे में गिरफ्तार arrest कर लिया।

By: shivali agrawal

Published: 05 Sep 2019, 03:05 PM IST

चेन्नई. कोयम्बेडु koyambedu के पास एक बुजुर्ग को लूटने वाले लोगों robber को पुलिस ने कुछ ही घंटे में गिरफ्तार arrest कर लिया। मदुरावायल निवासी मुरुगवेल मंगलवार रात कोयम्बेडु में १०० फीट रोड पर बस का इंतजार कर रहा था। उस वक्त एक बाइक ने मुरुगवेल के पास आकर बाइक रोकी और उसका बैग छीनने का प्रयास करने लगा। मुरुगवेल के विरोध करने और चिल्लाने पर वह मौके से भाग निकला। इस बीच वहां काफी लोग जमा हो गए और पुलिस की पेट्रोल टीम भी मौके पर पहुंची। पुलिस इंस्पेक्टर गुणशेखर और सेल्वम ने आरोपी का पीछा किया और उसे गिरफ्तार कर लिया। युवक की पहचान मनोज कुमार है। वह रेलवे में कांट्रेक्ट लेबर का काम करता है। कोयम्बेडु पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


फर्जी पुलिसकर्मी बन लोगों को धोखा देने के आरोप में तीन पकड़े
चेन्नई. महानगर में दो अलग-अलग मामलों में फर्जी पुलिसकर्मी बनकर लोगों को धोखा देने के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनसे पूछताछ कर और पता लगाया जा रहा है कि इन्होंने कितने लोगों को ठगी का शिकार बनाया है।
कार्तिक (३५) मूक-बधिर है और नुंगम्बाक्कम में एक टू-व्हीलर शोरूम में मैकेनिक का काम करता है। मंगलवार को वह अपनी प्रेमिका के साथ मरीना बीच घूमने गया था। वहां उनके पास एक शख्स आया और उससे यहां क्या कर रहा यह पूछने लगा। कार्तिंक ने इशारों में जवाब दिया तो उस युवक ने खुद को पुलिसवाला कहा और उससे पैसों की मांग की। जब उसने कुछ नहीं दिया तो उस युवक ने कार्तिक को मारना शुरू कर दिया। उसकी चीख-पूकार सुन आस-पास के लोग वहां जमा हो गए। उन्होंने युवक को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस को पूछताछ में पता चला कि उसका नाम त्यागराज है और तंजावुर का रहने वाला है। वह टीनगर में एक होटल में काम करता है।
थॉमस (१६) सिपको नगर विलीवाक्कम में रहता है और बारहवीं का छात्र है। मंगलवार रात को वह अपने पिता की कार लेकर चुपके से घर से निकल गया। सिंगारमपिल्लै स्ट्रीट के पास उसने कार पार्क की और अपने दोस्त से फोन पर बात करने लगा। इसी बीच वहां दो युवक आए और खुद को पुलिसवाले बता उसकी कार के पेपर और लाइसेंस की मांग की। थॉमस ने सारी हकीकत बताई तो दोनों ने उसे जुर्माना भरने को कहा। उसके पास इतने पैसे नहीं थे। अब उन दोनों ने कार की चाबी थॉमस से ले ली और उसे पीछे पुलिस थाने आने को कहा। इसी दौरान तिरुमंगलम के पास कार दुर्घटना का शिकार हो गई तो पुलिस की पेट्रोल टीम ने दोनों को पकड़ लिया। पीछे से जब थॉमस वहां पहुंचा तो उसने सारी घटना बताई। पुलिस ने दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। उनकी पहचान विलीवाक्कम निवासी एबीनेसर और अन्नानगर निवासी दिनेश के रूप में हुुई है। पुलिस जांच में पता चला है कि दोनों के खिलाफ महानगर के कई पुलिस थानों में चोरी, धोखाधड़ी समेत कई अन्य मामले दर्ज हैं।

Show More
shivali agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned