आरटीई आवेदन १ लाख के पार कोयम्बत्तूर में आरटीई के तहत ४३८९ आवेदन

२३ मई को निकाली जाएगी लॉटरी
निजी स्कूलों मेें मुफ्त सीट

By: P S Kumar

Published: 16 May 2018, 07:21 PM IST

चेन्नई. शिक्षा के अधिकार (आरटीई) कानून के तहत निजी स्कूलों में निर्धन तबके के विद्यार्थियों के मुफ्त दाखिले को लेकर राज्यभर में हुए आवेदनों की तादाद १ लाख को पार कर गई है। गत २० अप्रेल से निजी स्कूलों में फ्री सीट को लेकर आवेदन प्रक्रिया शुरू हुई थी। एक महीने के बाद यह आंकड़ा एक लाख को पार कर चुका है।


आरटीई एक्ट के तहत गरीब व निम्न तबके के विद्यार्थियों को निजी स्कूलों में दाखिला दिया जाता है। इस व्यवस्था के तहत निजी स्कूलों को २५ प्रतिशत सीट उपलब्ध करानी होती है। इस नियम से अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थानों को छूट प्राप्त है। इन सीटों पर भर्ती होने वाले विद्यार्थियों का खर्च सरकार वहन करती है।


२०१८-१९ अकादमिक वर्ष के लिए इसके तहत गत २० अप्रेल से आवेदन प्रक्रिया शुरू हुई थी। आवेदन मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय, मैट्रिकुलेशन स्कूल निरीक्षक के दफ्तर, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय अथवा सर्व शिक्षा अभियान निदेशालय कार्यालय में जमा कराए जा रहे हैं। इस नीति के तहत निजी स्कूलों की अधिक फीस के बोझ से दाखिला प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों के परिवार अप्रभावित रहते हैं।


आवेदन शुरू होने के पहले पखवाड़े में ही आवेदकों की संख्या ५८ हजार को पार कर चुकी थी। उस वक्त सर्वाधिक आवेदन चेन्नई और बाद में मदुरै व वेलूर से हुए थे। हालांकि एक महीना गुजरने पर मदुरै ने आवेदनों की संख्या में चेन्नई को पछाड़ दिया।


९१ हजार को मिला था दाखिला
स्कूल शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने बताया कि राज्यभर में ४४३२ निजी स्कूल हैं। इन स्कूलों में २५ प्रतिशत सीट समर्पण की व्यवस्था के तहत १.२० लाख मुफ्त सीटों पर अधिकतम दाखिला दिया जाएगा। पिछले साल ९१ हजार जरूरतमंद विद्यार्थियों को इसका लाभ मिला था। इस वर्ष संभवत: यह संख्या १ लाख को पार कर जाए। १५ मई तक प्राप्त आवेदनों की संख्या १ लाख ८६० रही है। अभिभावकों को वरीयता के हिसाब से पांच स्कूलों का विकल्प दिया गया है। अगर स्कूलों में निर्धारित सीटों से अधिक आवेदन आते हैं तो २३ मई को लॉटरी निकालकर इनका निपटारा किया जाएगा। हजार से कम आवेदनों में पेरम्बलूर (७६९), अरियलूर (७५२) व नीलगिरि (४१९) रहे। जबकि कोयम्बत्तूर में आरटीई के तहत ४३८९ आवेदन हुए।

इन जिलों में सर्वाधिक आवेदन
जिला संख्या
मदुरै ७४८७
चेन्नई ६४७६
वेलूर ६१७९
सेलम ५७५५
तिरुवल्लूर ५३१२
कांचीपुरम ५१२५
विल्लुपुरम ५०४४

P S Kumar Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned