रशियन एजूकेशन फेयर ९ से

दक्षिण भारत में काउंसिल जनरल ऑफ द रशियन फेडरेशन यूरी एस. बेलोव और स्टडी अब्रॉड के एमडी रविचंद्रन छात्र को प्रवेश पत्र देते हुए।

By: Ritesh Ranjan

Published: 07 Jun 2018, 02:51 PM IST

चेन्नई. स्टडी अब्रॉड के सहयोग से दक्षिण भारत में काउंसिल जनरल ऑफ द रशियन फेडरेशन (सीजीआरएफ) की ओर से दो दिवसीय रशियन एजूकेशन फेयर ९ जून से आलवारपेट स्थित रशियन सेंटर ऑफ साइंस एंड कल्चर में आयोजित होगा। रशियन सेंटर ऑफ साइंस एंड कल्चर का यह २०वां एजूकेशन फेयर है। सीजीआरएफ यूरी एस. बेलोव और स्टडी अब्रॉड के एमडी रविचंद्रन ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस फेयर का मकसद भारतीय छात्रों में रूस की शिक्षा का प्रचार-प्रसार करना है। इस फेयर में रूस की शिक्षा संबंधी सूचना और ऑन दी स्पॉट एडमिशन प्रक्रिया भी शामिल है। उन्होंने बताया कि रूस के किसी भी विश्वविद्यालय में नामांकन के लिए सीईटी या आईईएलटीएस जैसी परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं है लेकिन मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए नीट परीक्षा में पास होना अनिवार्य है। नौ और दस जून को शुरू हो रहे एजूकेशन फेयर में रूस के दस से अधिक सरकारी इंजीनियरिंग और मेडिकल विश्वविद्यालयों में नामांकन पाने का अवसर प्राप्त हो सकता है। इस मौके पर स्टडी अब्रॉड के एमडी रविचंद्रन एजूकेशन फेयर के दौरान विद्यार्थियों को बेहतर इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज में नामांकन लेने में मदद करेंगे। रविचंद्रन ने बताया कि आटर््स, साइंस, इंजीनियरिंग और मेडिकल संस्थानों में १० हजार से अधिक भारतीय पढ़ रहे हैं। चेन्नई के अलावा रशियन सेंटर ऑफ साइंस एंड कल्चर की ओर से ११ जून को सेलम, १२ जून को तिरुचि और १३ जून को हैदराबाद में एजूकेशन फेयर आयोजित किया जाएगा।

Ritesh Ranjan Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned