शशिकला की पेरोल खत्म

Mukesh Sharma

Publish: Oct, 13 2017 04:24:17 (IST)

Chennai, Tamil Nadu, India
शशिकला की पेरोल खत्म

पार्टी से दरकिनार एआईएडीएमके महासचिव वी.के. शशिकला, जिन्हें हाल ही में पांच दिन का पैरोल मिला था, का बुधवार को समय खत्म हो गया। अपने पति एम. नटराजन को

चेन्नई।पार्टी से दरकिनार एआईएडीएमके महासचिव वी.के. शशिकला, जिन्हें हाल ही में पांच दिन का पैरोल मिला था, का बुधवार को समय खत्म हो गया। अपने पति एम. नटराजन को देखने के बाद गुरुवार सुबह अपनी कार से बेंगलूरु के लिए रवाना हो जाएंगी। पेरोल पर बाहर आने के बाद अस्पताल जाने और घर में रहने के अलावा अन्य चीजों पर लगे प्रतिबंध के बाद राज्य की राजनीति में हलचल मचने की उम्मीद की जा रही थी। लेकिन शशिकला का पांच दिन के पेरोल में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। प्रतिबंध के अनुसार शशिकला को अपने पति एम. नटराजन से मिलने के लिए ग्लोबल हेल्थ अस्पताल जाने और वहां से घर, जहां पर रह रही थी, तक की अनुमति थी। जिसके वजह से शशिकला दैनिक आधार पर अपने पति को देखने के लिए अस्पताल जाती और वहां घंटों तक समय व्यतीत करती थी।

इसके अलावा शशिकला ने किसी भी राजनीति नेता से मुलाकात नहीं की। उल्लेखनीय है कि विधायक करुणास, सांसद विजिला सत्यनाथ और उदयकुमार ने उनसे मिलने की इच्छा भी जताई थी लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

गौरतलब है कि अपने बीमार पति से मिलने के लिए शशिकला ने १५ दिन के पेरोल की मांग की थी। लेकिन उन्हें ६ अक्टूबर से सिर्फ पांच दिन का ही पेरोल मिला था। यहां पहुंचने के बाद शशिकला टी.नगर स्थित अपने एक रिश्तेदार के घर पर रुकी थी।

एमजीआर शताब्दी समारोह के रूप में प्रतियोगिता 26 से

मुख्यमंत्री एडपाड़ी के. पलनीस्वामी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा पहले से ही राज्य भर में एआईएडीएमके संस्थापक और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. एमजी रामचंद्रन के शताब्दी समारोह का आयोजन किया जा रहा है। अब उनके नाम की डॉ. एमजीआर जानकी कॉलेज ऑफ आट्र्स एण्ड साइंस फॉर वूमन द्वारा शताब्दी समारोह के रूप में कई प्रतियोगिताओं की तैयारी की जा रही है। आगामी २६ और २७ अक्टूबर को आयोजित इस दो दिवसीय प्रतियोगिता के लिए अन्य कालेजों और स्कूलों के छात्रों को पेंटिग और रंगोली के अलावा निबंध, कविता प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए आमंत्रित भी किया जा रहा है।

प्रतियोगिता ६ से ८ और ९ से १२ और कॉलेज के छात्रों के बीच रखी जाएगी। इसमें पहली, दूसरी और तीसरी श्रेणी में आने वालों को पुरस्कार और प्रमाण पत्र भी प्रदान किए जाएंगे। कॉलेज की एक प्रतिनिधि लता राजेन्द्रन ने बताया कि एमजी रामचंद्रन को अभिनेता और राजनेता के रूप में तमिलनाडु के लोग अच्छे से जानते है। इस प्रतियोगिता के तहत अधिक से अधिक लोग विशेष कर युवाओं को एमजीआर के बारे में पता चलेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned