तमिलनाडु में पोंगल के बाद ही स्कूलों को खोले जाने पर विचार

तमिलनाडु में पोंगल के बाद ही स्कूलों को खोले जाने पर विचार
- अभिभावकों व शिक्षाविदों की राय के बाद ही खोले जाएंगे शिक्षण संस्थान

By: Ashok Rajpurohit

Published: 18 Dec 2020, 06:47 PM IST

चेन्नई. अब स्कूलें अगले साल जनवरी में ही खोले जाने की संभावना है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों एवं शिक्षाविदों के साथ चर्चा में अब अगले साल ही स्कूलों के खोले जाने की राय सामने आई है।
स्कूल शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अब स्कूलें पोंगल के बाद ही खोले जाने की संभावना अधिक है। खासकर बोर्ड परीक्षा के छात्रों के लिए जनवरी में स्कूलें खोली जाएगी। हाल ही में आइआइटी मद्रास में कोरोना विस्फोट के बाद अन्य संस्थानों में भी कोरोना की जांच कराए जाने की संभावना है। ऐसे में विभिन्न शिक्षण संस्थानों को स्थिति सामान्य होने के बाद ही खोले जाने की राय सामने आई है
गाइडलाइन की पालना
आईसीएमआर के हालिया अध्ययन के अनुसार मौजूदा समय में स्कूलों में गाइडलाइन की पालना करवाना काफी कठिन है। ऐसे में अभी कोई जल्दबाजी नहीं की जाएगी। कॉलेज छात्रों के टेस्ट रिजल्ट के बाद जनवरी में स्कूलें खोले जाने के बाद भी उन्हें स्वास्थ्य केन्द्रों से लिंक रखा जाएगा। इन केन्द्रों की ओर से पास की स्कूलों में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे। ताकि छात्रों की नियमित अंतराल से स्वास्थ्य जांच होती रहे।
अभिभावकों की लेंगे राय
इन केन्द्रो की ओर से सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में मास्क का वितऱण भी किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि स्कूलों को खोलने से पहले अभिभावकों की राय ली जाएगी। साथ ही शिक्षविदों को भी पूछा जाएगा। इसके बाद ही सहमति बनने पर ही स्कूल खोले जाएंगे।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned