चेन्नई में पुलिस की सख्ती के बाद पूरी तरह सफल रहा लॉकडाउन का दूसरा दिन

Second day of lockdown was successful-in Chennai: महानगर के कुछ इलाकों में कुछ लड़के अनावश्यक सड़कों पर निकल गए थे। जिन्हें घर भेजने के लिए पुलिस ने उनपर हल्का बल प्रयोग भी किया। कई जगहों पर पुलिस वाहन चालकों से कान पकड़ कर उठक-बैठक कराई।

चेन्नई.

महानगर में बुधवार की अपेक्षा गुरुवार को लॉक डाउन ज्यादा सफल रहा। हालांकि बुधवार की तरह ही लोग सुबह में सड़क पर निकल गए। खाद्य सामग्री की दुकानों में भीड़ लग गई। गाड़ी लेकर भी लोग सड़क पर आ गए, लेकिन पुलिस ने मोर्चा संभाला और बिना कारण लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्ती शुरू कर दी। कान पकड़कर उठक-बैठक भी कराई।

दिन के दस बजने के साथ महानगर के प्रत्येक इलाका सुनसान हो गया। कुल मिलाकर गुरुवार को महानगर की महत्वपूर्ण सहित अन्य सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। यहां तक कि बाजार में किराना और सब्जियों की दुकान छोड़कर सभी दुकानें बंद रही। सड़कों से लेकर गली-मोहल्ले में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिसकर्मी ड्यूटी पर मुस्तैद रहे। कोरोना ने देश को पूरी तरह से अपनी गिरफ्त में ले लिया है।

पुलिस की कार्रवाई
सड़क पर चल रहे इक्के-दुक्के बाइक, ऑटो जब्त कर ली गई जबकि गैर जरूरी वाहनों का चालान काटा। हर इलाके में सड़क पर चेकिंग लगा कर वाहनों की आवाजाही को पूरी तरह से रोक दिया। अधिकांश इलाके में पुलिस ने अपने बेरीकेड्स लगाकर गाड़ी को सड़क के बीचोबीच खड़ी कर चेकिंग लगाई। सड़क पर पैदल या वाहनों से निकले हरेक लोगों से पुलिस घर से बाहर निकलने का उचित कारण पूछ रही थी और उसका सबूत भी मांग रही थी। ज्यादातर लोग दवा लेने या डॉक्टर के पास जाने के लिए घरों से निकले थे। कुछ लोग रोजमर्रा की जरूरत का सामान लेने घरों से निकले थे।

भीड़ देख पुलिस अधिकारी भड़के
निरीक्षण के दौरान आला पुलिस अधिकारी दुकान में खरीदारों की भारी भीड़ देख भड़के गए। अधिकारियों ने तुरंत माइकिंग की और दुकानदारों को चेताया कि अगर ऐसी स्थिति रही तो संक्रमण फैल सकता है। चेतावनी के बाद दुकानदार ने ग्राहकों को अलग-अलग किया और खाद्य सामग्री दिया। फूल और दूसरे सामानों की दुकान खुला देख अधिकारी भड़क उठे और चेताया कि अगर अब लॉकडाउन में दुकान खोले तो दुकानदार पर केस दर्ज होगा।

हल्का बल प्रयोग किया
महानगर के कुछ इलाकों में कुछ लड़के अनावश्यक सड़कों पर निकल गए थे। जिन्हें घर भेजने के लिए पुलिस ने उनपर हल्का बल प्रयोग भी किया। कई जगहों पर पुलिस वाहन चालकों से कान पकड़ कर उठक-बैठक कराई।

पीएम मोदी की अपील
कोरोना वायरस संक्रमण को हराने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील पर जनता कफ्र्यू में समूचे देशवासियों ने घरों में रहकर अपनी आहूति दी थी वहीं गत मंगलवार को एक बार फिर से प्रधानमंत्री ने लगातार 21 दिनों यानि 14 अप्रैल तक समूचे देश में लॉकडाउन की घोषणा की। इसको भी सभी ने हाथोंहाथ लिया और इसका भरपूर समर्थन किया। इसी का नतीजा है कि लॉकडाउन का दूसरा दिन सफल रहा।

COVID-19 virus
PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned