Tamilnadu: इनके लिए कोई कायदे-कानून नहीं

वैसे तो शेयर ऑटो (Share Auto) रिक्शा यात्रियों के लिए काफी सुविधाजनक कहे जा सकते हैं लेकिन शेयर ऑटो चालक अक्सर यातायात (Traffic) नियमों का उल्लंघन करते देखे जा सकते हैं। महानगर के कई मार्गों पर शेयर ऑटो रिक्शा का संचालन किया जा रहा है।

चेन्नई. वैसे तो शेयर ऑटो रिक्शा यात्रियों के लिए काफी सुविधाजनक कहे जा सकते हैं लेकिन शेयर ऑटो चालक अक्सर यातायात नियमों का उल्लंघन करते देखे जा सकते हैं। महानगर के कई मार्गों पर शेयर ऑटो रिक्शा का संचालन किया जा रहा है। लेकिन इनमें कई मार्गों पर चलने वाले शेयर ऑटो रिक्शा बिना किसी रेगुलेशन के चल रहे हैं यानी वे अवैद्य रूप से वाहन को सड़कों पर दौड़ा रहे हैं। शेयर ऑटो रिक्शा के लिए महानगर में किसी स्थल पर अलग से पार्किंग स्थल भी न होने से वाहन चालक जहां कहीं भी अपने वाहन पार्क कर देते हैं। अन्नानगर से स्पेन्सर प्लाजा तक संचालित होने वाले शेयर ऑटो रिक्शा की बात की जाएं तो उनके हालात तो बेहद गंभीर कहे जा सकते हैं। इस मार्ग पर कई शिक्षण संस्थान होने से अधिकांश छात्र-छात्राएं इनमें सफर करते देखे जा सकते हैं। शेयर ऑटो रिक्शा वालों के लिए लगता है कोई नियम-कानून ही नहीं है। ये जहां चाहे वहां अपना वाहन पार्क कर देते हैं। ऐसे में कई बार वाहनों के पार्क कर देने से यातायात में बाधा पहुंचती है।
दर्जनों ऑटो रिक्शा
कई बार इस मार्ग पर एत्तिराज कॉलेज के आसपास एक साथ दर्जनों शेयर ऑटो रिक्शा नजर आते हैं। ऐसे में यहां कई बार यातायात प्रभावित होता है। महाविद्यालय आने वाली छात्राओं को भी परेशानी होती है। अन्य यात्रियों के कुछ कहने पर शेयर ऑटो रिक्शा चालक अक्सर यात्रियों से झगड़ा करने पर उतारू हो जाते हैं।
चालकों का रूखा व्यवहार
कई बार यात्रियों के साथ उनका व्यवहार भी रूखा रहता है। अक्सर पीक अवर्स के दौरान शेयर ऑटो रिक्शा वाले अपने फायदे के लिए वाहन में क्षमता से अधिक सवारियां बिठा देते हैं। इस कारण अन्य यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ती है।

..........................

अलग से हो स्थल
महानगर में शेयर अ़ॉटो रिक्शा वालों के लिए अलग से पार्किंग स्थल विकसित किया जाना चाहिए। कम से कम जहां से शेयर ऑटो रिक्शा का पहला एवं अंतिम स्थल हैं वहां पर शेयर ऑटो रिक्शा के पार्क करने के लिए जगह का आवंटन किया जाना चाहिए ताकि रोजाना होने वाले यातायात जाम का समाधान मिल सकता है।
जदगीशप्रसाद अग्रवाल, बिजनसमैन।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned