वेद मंत्रो से पावन हुआ श्री मुरगन कार्तीकेयन मंदिर

अष्टस्कन्द 1008 कलश पूजा एवं श्री चण्डीयज्ञ महोत्सव

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 09 Feb 2018, 04:24 PM IST

Chennai, Tamil Nadu, India

वेलूर के रत्नगिरि श्री मुरगन कार्तीकेयन मंदिर में अष्टस्कन्द 1008 कलश पुजा एवं श्री चण्डीयज्ञ महोत्सव के अवसर पर मंत्रोच्चार के ध्वनि से माहौल पावन हो गया। श्री चण्डीयज्ञ महोत्सव में भोर की पहली किरण के धरती पर उतरने के साथ ही घंटे-घडिय़ाल की ध्वनि गूंजने लगी। पुजारियों ने भगवान कार्तीकेयन की प्रतिमा पर जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक एवं पंचामृताभिषेक कर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ अष्टस्कन्द 1008 कलश पूजन किया। इसके बाद स्वामी बाल मुरगन व कलवै पीठम स्वामी श्री सच्चिदानंद के सन्निध्य में आयोजित श्री गणपति महायज्ञ में वेद मंत्रों का उच्चारण करते हुए हवन वेदी में घी व शाकल्य को आहुतियंा देकर देवताओं से विश्व कल्याण की कामना की। फिर स्वामी श्री सच्चिदानंद ने धर्मसभा को संबोधित करते हुए बताया कि वेद ज्ञान का सागर है। सदैव सात्विक व शाकाहारी भोजन करना चाहिए। घर में गाय पालनी चाहिए। युवाओं को नशे से दुर रहकर वेद अध्ययन करने के साथ-साथ धर्म पथ पर चलना चाहिए। श्री चण्डीयज्ञ महोत्सव व कलश पुजा के मौके पर सैकड़ों की संख्या में श्रद्वालु शामिल थे। इस अवसर पर रत्नगिरि श्री बालमुरगन कार्तीकेयन मंदिर में पूरे विधि-विधान से कलश पूजन किया गया। श्री गणपति महायज्ञ में आहूति देन के लिए पुजारी, स्वामी बालमुरगन व स्वामी सच्चिदानंद का विशेष योगदान रहा।

वार्षिक बैठक संपन्न-

आरकाट मार्ग स्थित आवना इन सभा भवन में वेलूर राजस्थानी-गुजराती संघठन की ओर से अध्यक्ष भंवरलाल जी बाफना की अध्यक्षता में वार्षिक बैठक का अयोजन किया गया। बैठक को संबोधित करते हुए सचिव मदनजी झाम्बर ने बताया कि राजस्थानी गुजराती संघठन की ओर से समय समय पर गरीबों के लिए किए जा रहे सामाजिक सेवा कार्यक्रमों को इस वर्ष भी जोर शोर से किया जाएगा। संघठन की ओर से जल्द ही दिव्यांगों के लिए कृत्रिम अंगों का वितरण की जाएगा। प्रवासी गिरवी व्यपारियों को पुलिस द्वारा परेशान किए जाने पर संघठन एकजुट होकर पीडि़तो की मदद को उतरेगा। प्रवासी व्यपारीगण किसी भी अनर्गल कार्यो में न फंसें। बैठक में कैशियर नवीन ने गत वर्ष की आय व व्यय का हिसाब सदस्यों व पदाधिकारियों को बताया। इसके आलावा बैठक में सात प्रस्ताव पारित किए गए। इस मौके पर काफी संख्या में सदस्यगण उपस्थित थे

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned