स्मार्ट पेड़ से होगा मोबाइल चार्ज, मिलेगी सौर ऊर्जा व वाई-फाई

दरअसल वीओसी पार्क में वाई -फाई , सौर ऊर्जा, मोबाइल को चार्ज करने के सॉकेट लगाए जाने हैं

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 20 Jul 2018, 01:26 PM IST

कोयम्बत्तूर. स्मार्ट सिटी कोयम्बत्तूर में अब कई स्थानों पर कृत्रिम पेड़ लगाएं जाएंगे,जो स्मार्ट होंगे। ऐसा एक पेड़ टाउन हॉल परिसर में लगाया जा चुका है। अब वीओसी पार्क में लगाने की तैयारियां चल रही हैं। दरअसल वीओसी पार्क में वाई -फाई , सौर ऊर्जा, मोबाइल को चार्ज करने के सॉकेट लगाए जाने हैं। इन सब के लिए ख भे बनाए जाने हैं। इन ख भों को ही स्मार्ट दिखाने के लिए इन्हें पेड़ का आकार दिया जा रहा है। इनके आस पास बैठने के लिए बैंच लगा कर इन्हें आकर्षक बनाने पर काम किया जा रहा है। पहला स्मार्ट पेड़ नगर निगम परिसर में तैयार हो चुका है। आम जनता ने भी इसे सराहा व लाभ उठाया है। इससे उत्साहित नगर निगम प्रशासन ने वीओसी पार्क में कई स्थानों पर ऐसे ही स्मार्ट पेड़ लगाने की योजना तैयार की है।
इय योजना पर 25 लाख की लागत आएगी। इसमें से 12 लाख रुपए वीओसी पार्क में खर्च किए जाने हैं। इनकी उपयोगिता सिद्ध होने पर शहर के अन्य हिस्सों में भी स्मार्ट पेड़ लगाए जा सकते हैं। मोबाइल चार्जिंग की मु त सुविधा वक्त की जरूरत है।

 

वीओसी पार्क में स्मार्ट पेड़ के आसपास लगाई जाने वाली बेंचों पर एक साथ लगभग 30 लोग बैठ सकेंगे
सूत्रों ने बताया कि वीओसी पार्क में स्मार्ट पेड़ के आसपास लगाई जाने वाली बेंचों पर एक साथ लगभग 30 लोग बैठ सकेंगे। वे अपने मोबाइल लैपटॉप सहित अन्य उपकरणों को चार्ज कर सकेंगे। परियोजना का काम देख रहे एक इंजानियर ने बताया कि एक स्मार्ट पेड़ 6 00 वर्ग फुट के क्षेत्र में लगाया जा रहा है। पेड़ को वास्तविक बनाने के लिए फिल्मों में काम कर रहे कला निर्देशकों से सहायता ली है। 20 फीट ऊंचे पेड़ की पत्तियां फाइबर की बनाई जा रही हैं। हल्की बारिश में यह लोगों को भीगने से बचाएगा व तेज धूप में छाया देगा। पेड़ का रंग सुनहरा है। कई लोगों ने पेड़ के पास सेल्फी लेना शुरु कर दिया है। स्मार्ट सिटी मिशन के प्रोजेक्ट मैनेजर सुभाष ने बताया शहर के विभिन्न स्थानों पर 25 ऐसे कृत्रिम पेड़ लगाने की योजना बना रहे हैं। इन पेड़ों का रखरखाव निजी फर्मों को दिया जाएगा। वे यहां लगाए जाने वाले विज्ञापनों के एक हिस्सा लेंगे। वीओसी पार्क में बनाए जा रहे स्मार्ट पेड़ का काम अंतिम चरण में हैं। इसकी जांच -परख के बाद इसे जनता के लिए खोल दिया जाएगा।

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned