स्टालिन ने नरेंद्र मोदी से तमिलों के अधिकार की रक्षा करने का किया आग्रह

After the victory of Sri Lanka's new President Gotabaya Rajapaksa

श्रीलंका के नए राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे की जीत के बाद

श्रीलंका के नए राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे की जीत के बाद
स्टालिन ने नरेंद्र मोदी से तमिलों के अधिकार की रक्षा करने का किया आग्रह
चेन्नई. श्रीलंका के राष्ट्रपति चुनाव में गोताबाया राजपक्षे Gotabaya Rajapaksa की जीत के बाद डीएमके अध्यक्ष एम.के. स्टालिन ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से श्रीलंका में रहने वाले ऐलम तमिलों के अधिकारों की रक्षा करने का आग्रह किया।

 

-तमिल काफी आश्चर्यचकित और नाखुश हो गए हैं

यहां जारी एक विज्ञप्ति में स्टालिन ने कहा प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति बनने पर गोटाबाया को बधाई दी है। देश भर के तमिलों को उम्मीद है कि नरेंद्र मोदी नए राष्ट्रपति के साथ ऐलम तमिलों से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति के चुनाव में गोटाबाया की जीत से वहां रहने वाले तमिल काफी आश्चर्यचकित और नाखुश हो गए हैं।

 

ऐसा सिर्फ इसलिए है क्योंकि वहां रहने वाले तमिलों के साथ गोटाबाया ने अच्छा नहीं किया था। उन्होंने कहा कि ऐलम तमिलों को उनका अधिकार नहीं मिलता है और बहुत सारे ऐसे मुद्दे हैं जिन पर अब तक विचार नहीं किया गया है। कुछ मुद्दे तो यूएनएचआरसी के अधीन लंबित भी है। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु को आशा है कि नए राष्ट्रपति तमिलों के साथ भी समान व्यवहार कर उनके अधकारों से उन्हें वंचित नहीं करेंगे।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned