अब तक विद्यार्थियों को नहीं मिला मुफ्त बस पास

Free bus pass मुफ्त बस पास students विद्यार्थियों Six months have passed since schools reopened

वित्तीय वर्ष में महानगर की सभी स्कूले खुले छह महीने हो गई हैं

By: Vishal Kesharwani

Published: 01 Nov 2019, 04:32 PM IST

अब तक विद्यार्थियों को नहीं मिला मुफ्त बस पास
-छह महीने हो गए स्कूल को खुलके
चेन्नई. वित्तीय वर्ष में महानगर की सभी स्कूले खुले छह महीने हो गई हैं लेकिन राज्य सरकार की ओर से विद्यार्थियों को दी जाने वाली मुफ्त बस पास अब तक नहीं जारी हुई। इसके परिणाम स्वरूप विद्यार्थियों की व्याकुलता बढ़ती जा रही है और बहुत बार तो टिकट जांच अधिकारी विद्यार्थियों से टिकट भी मांगने लगते हैं। कुछ महीने पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक वीडियो में टिकट जांच अधिकारी मुलकडै इलाके में एमटीसी बस में सवार एक विद्यार्थी से जुर्माना की मांग कर रहा था और बस से भी उतरने को कह रहा था। मामले के बाद स्टाफ के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी हुई थी। विद्यार्थियों का कहना है कि परिवहन मंत्री के आश्वासन, जिसमें उन्होंने कहा है कि जब तक पास नहीं मिलते तब तक विद्यार्थी बस में बिना पास के ही यात्रा कर सकते हैं, के बावजूद इस तरह के हालात अक्सर होते हैं। सूत्रों के अनुसार राज्य सरकार द्वारा पेपर पास को खत्म कर स्मार्ट कार्ड बनाने की योजना बनाई गई है, जिसके परिणाम स्वरूप पास जारी करने में देरी हो रही है।

- निगमों पास प्रिंट करने की जिम्मेदारी दी गई थी

निगमों को विद्यार्थियों के विवरण को सत्यापित करने और सभी योग्य उम्मीदवारों के लिए बस पास प्रिंट करने की जिम्मेदारी दी गई थी। लेकिन अभी तक पास पिं्रट भी नहीं हुआ है। एक तरफ एमटीसी ने बस कंडक्टरों को परिपत्र जारी कर यूनिफार्म पहने विद्यार्थियों से टिकट नहीं लेने का निर्देश दिया है। वहीं दूसरी ओर कंडक्टरों का आरोप है कि विद्यार्थियों को दी जाने वाले लाभ का बहुत सारे लोग दुरुपयोग करने की कोशिश करते है।

-सरकार ८०० करोड़ का भुगतान करती है

उल्लेखनीय है कि सरकार के इस नियम के अनुसार राज्य भर के सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों को मुफ्त बस पास दिया जाता है, जबकि निजी स्कूल के विद्यार्थियों को ५० प्रतिशत छूट है। विद्यार्थियों को दी जाने वाली रिययत की प्रतिपूर्ति करने के लिए राज्य सरकार हर वर्ष एमटीसी समेत राज्य परिवहन निगम को ८०० करोड़ का भुगतान करती है।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned