अगले 25 सालों तक जारी रहेंगे रोजगार के बड़े अवसर

 

-न्यू तमिलनाडु इंडस्ट्रीयल पालिसी पर सेमिनार का आयोजन

By: Santosh Tiwari

Published: 05 Mar 2021, 11:32 PM IST

चेन्नई.

सुराणा एंड सुराणा इंटरनेशनल एटर्नीज की ओर से न्यू तमिलनाडु इंडस्ट्रीयल पालिसी 2021 एवं एमएसएमई पालिसी 2021 पर सुराणा एंड सुराणा नालेज सिरीज सेमिनार का आयोजन किया गया। नालेज सिरीज के तहत यह उनका पहला लाइव सेमिनार था। शुरुआत में संजय मेहता ने दोनो पालिसी के विभिन्न मुख्य विशेषताओं का विश्लेषण किया। इसके बाद सत्र में एनआईक्यूआर के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस.राजशेखरन, इंडिया सीमेंट्स कैपिटल के सीईओ के.सुरेश, सिडबी की जनरल मैनेजर चित्रा अलै, एआईएमओ के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के.इ.रघुनाथन, सिक्की टेक्नालाजी कमेटी के चेयरमैन एम.वी.सुब्रमण्यन ने विचार व्यक्त किए। पैनल चर्चा का संचालन कल्याण झाबक ने किया। सुराणा एंड सुराणा इन्टरनेशनल एटर्नीज के सीईओ डा.विनोद सुराणा ने कहा कि इन नई पालिसी से एमएसएमई के नवाचार की शक्ति के दोहन की उम्मीद है।

बड़े निवेशकों को आकर्षित करेगी एमएसएमई आधारित आर्थिक प्रणाली

उन्होंने कहा कि एयरोस्पेस, रक्षा, इलेक्ट्रोनिक्स, इलेक्ट्रिक वाहन, आटोनोमस वाहन एवं ड्रोन, विशेष रसायन, बायो-टेक, बैट्री टेक्नालाजी जैसे क्षेत्रों में बड़ा निवेश होगा। ऐसे में अगले 25 सालों तक राज्य में नौकरी के अवसर मिलेंगे एवं समृद्धि जारी रहेगी। वैश्विक आपूर्ति हब बनने के लिए कंपनियां तमिलनाडु में अपना आपरेशन शुरू करने के लिए प्रोत्साहित होंगी। तमिलनाडु भारत में कलस्टर आधारित विकास माडल में अग्रणी रहा है। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि एमएसएमई आधारित आर्थिक प्रणाली बड़े निवेशकों को आकर्षित करेगी। ये दो पालिसी इस सोच को प्रतिबिंबित करती हैं।

Santosh Tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned