स्कूली पाठ्यक्रमों को 40 प्रतिशत तक किया गया कम: सेंगोट्टयन

राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री के.ए. सेंगोट्टयन ने शुक्रवार को कहा कि विशेषज्ञ कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर विभाग ने स्कूली पाठ्यक्रमों को 40 प्रतिशत तक कम कर दिया है।

By: Vishal Kesharwani

Published: 18 Sep 2020, 05:12 PM IST


इरोड. राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री के.ए. सेंगोट्टयन ने शुक्रवार को कहा कि विशेषज्ञ कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर विभाग ने स्कूली पाठ्यक्रमों को 40 प्रतिशत तक कम कर दिया है। एक महीने पहले कमेटी ने अपना रिपोर्ट पेश किया था और उसके आधार और कोरोना को देखते हुए पाठ्यक्रमों को कम किया गया है। गोबीचेट्टीपालयम में पत्रकारों से बातचीत में मंत्री ने कहा नीट परीक्षा के दौरान 90 प्रतिशत सवाल राज्य बोर्ड पाठ्यक्रमों से पूछे गए थे। इसके अलावा ऐसे पाठ्यक्रम तैयार किए जा रहे हैं जिससे राज्य के विद्यार्थी किसी भी प्रतियोगी परिक्षाओं का सामना कर सकेंगे।

 

सेंगोट्टयन ने कहा कोरोना महामारी के समाप्त होने के बाद खेल विभाग में कई बदलाव किए जाएंगे। प्रति शनिवार को काल्वी तोल्लैकच्ची के जरिए छह घंटे तक विद्यार्थियों के सभी संदेह को दूर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्कूल शिक्षा विभाग में नियुक्त हुए स्पेशल शिक्षकों को स्थाई नहीं किया जाएगा। उनकी नियुक्ति पत्र में स्पष्ट लिखा गया है कि उनकी नौकरी स्थाई नहीं बल्कि अस्थाई है। एक सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा उनके विभाग को राज्य भर के 14 स्कूलों के खिलाफ अभिभावकों से पूर्ण फीस वसूलने को लेकर शिकायत मिली थी। स्पष्टीकरण के लिए सभी स्कूलों को नोटिस भेजा गया है। स्पष्टीकरण संतुष्टिजनक नहीं रहा तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned