सुप्रीम कोर्ट ने पोंगल पर अवकाश घोषित किया, मुख्यमंत्री पलनीस्वामी ने कहा धन्यवाद

पोंगल त्योहार तमिल माह थाई के पहले दिन बारिश/सूर्य देवता और खेत, जानवरों को धन्यवाद देने के लिए मनाया जाता है।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 27 Nov 2020, 07:04 PM IST

चेन्नई.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलनीस्वामी ने शुक्रवार को 14 और 15 जनवरी, 2021 को पोंगल त्योहार के कारण अवकाश घोषित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया। यहां जारी एक बयान में पलनीस्वामी ने तमिल के फसल उत्सव के लिए छुट्टियों की घोषणा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट का आभार व्यक्त किया। पोंगल त्योहार तमिल माह थाई के पहले दिन बारिश/सूर्य देवता और खेत, जानवरों को धन्यवाद देने के लिए मनाया जाता है।

तमिलों के लिए पोंगल उत्सव चार दिनों का होता है, पहला दिन भोगी होता है, इस दिन लोग अपने पुराने कपड़े, चटाई और अन्य सामान जलाते हैं। घरों को नया रूप दिया जाता है। दूसरा दिन तमिल महीने थाई के पहले दिन मनाया जाने वाला मुख्य पोंगल त्योहार होता है। तीसरे दिन मट्टू पोंगल होता है, जब बैल और गायों को नहलाया जाता है और उनके सींगों को रंगा जाता है और उनकी पूजा की जाती है।

ऐसा इसलिए किया जाता है, क्योंकि वे खेतों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके बाद महिलाएं पक्षियों को रंगीन चावल खिलाती हैं और अपने भाइयों के कल्याण के लिए प्रार्थना करती हैं। राज्य के कुछ हिस्सों में जल्लीकट्टू, जो कि बैलों से जुड़ा खेल है, उसे भी आयोजित किया जाता है। चौथा दिन कन्नुम पोंगल होता है, इस दिन लोग बाहर जाते हैं और रिश्तेदारों और दोस्तों से मिलते हैं, दर्शनीय स्थलों की यात्रा करते हैं।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned