तमिलनाडु मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी की कोरोना संक्रमण से मौत


- स्टालिन ने शोक जताया

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 17 Jun 2020, 05:35 PM IST

चेन्नई.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई. के. पलनीस्वामी के कार्यालय में एक वरिष्ठ अधिकारी की मंगलवार रात कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी में मौत हो गई। अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है। अधिकारी 'वरिष्ठ निजी सचिव' के रूप में काम कर रहे थे और अब एक सप्ताह से अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें पहले ओमानदूरार मल्टी-सुपर स्पेशलिटी सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन बाद में राजीव गांधी सरकारी अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था। वहां से उन्हें एक निजी अस्पताल में भी ले जाया गया और फिर राजीव गांधी सरकारी अस्पताल में शिफ्ट किया गया। मंगलवार रात को उन्होंने अंतिम सांस ली।

सईदापेट में परिवार
अधिकारी का परिवार सईदापेट में सरकारी कर्मचारी क्वार्टर्स में रहते है। तमिलनाडु सचिवालय एसोसिएशन के अध्यक्ष पीटर का कहना है कि चुंकि अधिकारी के मौत के बाद सचिवालय को लॉकडाउन अवधि तक बंद रखना चाहिए और उन्होंने कहा कि सचिवालय में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है। सचिवालय में काम करने वाले ५५ साल से अधिक उम्र के कर्मचारियों और गर्भवती महिलाओं को आने से मना किया गया है जो हृदय और अन्य बीमारियों से पीडि़त है।

200 कर्मचारी संक्रमित
इस बीच सूत्रों के अनुसार सचिवालय में कई आईएएस अधिकारियों और विभिन्न रैंक के अधिकारियों सहित लगभग 200 कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण हुआ है। और उनका इलाज चल रहा है। 19 जून से सभी सरकारी कार्यालय केवल 33 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम करेंगे और कंटेनमेंट जोन के कर्मचारियों को कार्यालय आने से मना किया गया है।

स्टालिन ने शोक व्यक्त किया
स्टालिन ने ट्वीट कर उनकी मौत पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि अधिकारी की कोरोना से मौत की खबर सुनकर व्यथित हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को सचिवालय और राज्यभर के अन्य विभागों में काम करने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned