Tamilnadu : ये क्या कह गए रजनीकांत

Tamilnadu : ये क्या कह गए रजनीकांत
Tamilnadu : Don't impose Hindi: Rajinikanth : Amit Shah, language

shivali agrawal | Updated: 18 Sep 2019, 02:38:48 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

Tamilnadu : Don't impose Hindi: Rajinikanth : Amit Shah, language : उनका कहना है कि एक भाषा देश के लिए अच्छी हो सकती है लेकिन विविधता से भरे भारत देश में यह लागू करना संभव नहीं है।

चेन्नई. दक्षिण की फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने भी एक राष्ट्र एक भाषा के विरोध में ही अपनी राय रखी है।

उनका कहना है कि एक भाषा देश के लिए अच्छी हो सकती है लेकिन विविधता से भरे भारत देश में यह लागू करना संभव नहीं है।

राजनीति में पदार्पण कर चुके तलैवा ने चेतावनी दी है कि इसे थोपने की कोशिश का विरोध न केवल दक्षिण बल्कि उत्तर के भी कई राज्य करेंगे।

रजनीकांत का ये बयान अमित शाह के हिंदी को देश की कॉमन भाषा बनाने की बात के बाद आया है।

एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि एक सामान्य भाषा किसी भी देश की एकता और समृद्धि को मजबूत बनाती है।

हमारे देश में ये संभव नहीं है। अगर आप हिंदी को थोपने की कोशिश करते है तो कोई भी दक्षिणी राज्य इसे स्वीकार नहीं करेगा। कई उत्तर भारतीय राज्य भी इसे नहीं स्वीकार नहीं करेंगे।

ये दक्षिणी नेता जता चुके हैं विरोध
डीएमके अध्यक्ष स्टालिन, एमडीएमके प्रमुख वाइको, नेता अभिनेता कमल हासन इस विषय पर पहले ही अपना विरोध जता चुके है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned