तमिलनाडु में खुल गए धार्मिक स्थल, नियमों का पालन करना होगा अनिवार्य

लोगों पर सख्ती से निगरानी होगी।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 01 Jul 2020, 04:05 PM IST

चेन्नई.

एक जुलाई से अनलॉक 2.0 का आगाज हो चुका है। केन्द्र सरकार ने इस बाबत गाइडलाइंस जारी कर दी है। अनलॉक 2.0 में कुछ और ढील दी गई है। वहीं, तमिलनाडु सरकार ने अनलॉक 2.0 में धार्मिक स्थानों को खोलोने की इजाजात दे ही। जबकि, केन्द्र सरकार ने अनलॉक 1.0 में ही इसकी इजाजत दे दी थी। लेकिन, मोदी सरकार ने कहा था कि राज्य सरकार अपने हिसाब से इसे खोल सकते हैं।

तमिलनाडु में खुल गए धार्मिक स्थल
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलनीस्वामी सरकार ने धार्मिक स्थलों को खोलने के लिए गाइडालइंस जारी कर दी है। गाइडलाइंस में कहा गया है कि मंदिर के अंदर केवल वहीं लोग प्रवेश कर सकते हैं, जिनमें बीमारी के कोई लक्षण न होंगे। इसके अलावा बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं, ब्लड सूगर, हाई ब्लड प्रेशर, या फिर किडनी की बीमारी सहित अन्य रोगों से पीडि़त लोगों को धार्मिक स्थलों पर न जाने की सलाह दी गई है। सरकार का कहना है कि मंदिर में आने वाले लोगों पर सख्ती से निगरानी होगी।

गाइडलाइन जारी
मुख्यमंत्री पलनीस्वामी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती के साथ पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि मंदिर के अंदर मूर्तियों को छूने, प्रसाद के वितरण, नारियल चढ़ाने और पवित्र जल छिडकऩे की अनुमति अभी नहीं दी गई है। इसके अलावा एक-दूसरे से हाथ मिलाने, गले मिलने से बचने की भी सलाह दी गई है।

लोगों से अपील
लोगों से यह भी अपील किया गया है कि अपने जूतों को कार में छोड़ दें और अपना आसन लेकर मंदिर में प्रार्थना करने के लिए जएं। वहीं, धार्मिक स्थानों पर गाना गाने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा भक्तों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग भी मेंटेंन करना होगा। सरकार का कहना है कि इन दिशा-निर्देशों का पालन करना स्थानीय पदाधिकारियों की जिम्मेदारी होगी।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned