तमिलनाडु में लॉकडाउन 30 सितंबर तक बढ़ा,  बस सेवाएं शुरू, खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल : मुख्यमंत्री

- सितम्बर में भी लॉकडाउन
- 7 सितम्बर से दौड़ेगी मेट्रो
- तमिलनाडु आने वालों को लेना होगा ई-पास

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 30 Aug 2020, 07:25 PM IST

चेन्नई.

पहली सितम्बर से राज्य में जिलों के भीतर बस सेवाओं का संचालन शुरू होगा। धार्मिक स्थल खुल जाएंगे। ई-पास की अनिवार्यता अंतरजिला परिवहन के लिए आवश्यक नहीं होगी। केंद्र सरकार के निर्देश की पालना के तहत 7 सितम्बर से चेन्नई मेट्रो की सवारी भी शुरू हो जाएगी। ऐसी कई रियायतों की घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री ईके पलनीस्वामी ने लॉकडाउन की अवधि 30 सितम्बर तक बढ़ाने की घोषणा की है। सितम्बर महीने में रविवार को पूर्ण

लॉकडाउन नहीं होगा।
मुख्यमंत्री ने रविवार को लॉकडाउन में छूट की घोषणा करते हुए कहा कि जिला कलक्टरों व विशेषज्ञों की समिति से परामर्श के बाद यह निर्णय किया गया है। राज्य में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिहाज से 31 अगस्त तक लागू लॉकडाउन को 30 सितम्बर रात 12 बजे तक बढ़ाया जा रहा है लेकिन इसमें जनता को कई रियायतें दी जाएंगी ताकि अर्थव्यवस्था को गति दी जा सके। ये छूटें कंटेनमेंट जोन पर लागू नहीं होंगी। आइटी कंपनियों, रेस्तरां, चाय की दुकानों सहित अन्य छूटें पहले की तरह विधिवत रहेंगी। आइटी कंपनियों से कहा गया है कि वे वर्क फ्रम होम के कल्चर को बनाए रखें। नीलगिरि, कोडैकानल व येरकाड पर्यटन स्थलों में पर्यटकों को जिला कलक्टर से ई-पास लेना होगा।

सोलह फीसदी घटा संक्रमण
सीएम ने कहा सरकार के कोरोना संक्रमण को लेकर किए जा रहे ठोस उपायों की वजह से पिछले दो महीने में तमिलनाडु में महामारी 16 प्रतिशत तक घटी है। साथ ही कोरोना संकट की वजह से जो आर्थिक क्षति हुई थी उससे हम उबरने लगे हैं।

सौ फीसदी कर्मचारियों के साथ दफ्तर
निजी कार्यालयों की तरह 1 सितम्बर से सभी सरकारी कार्यालयों में पूरा काम शुरू हो जाएगा। 100 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ दफ्तर काम करेंगे। बहरहाल, निजी और सरकारी सभी कंपनियों व दफ्तरों में कोरोना के लिए नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाएगी। बैंक और वित्तीय संस्थान भी पूरी क्षमता पर काम करेंगे।

यात्री रेल सेवा
पलनीस्वामी ने कहा कि राज्यों के बीच तयशुदा जगहों के लिए ट्रेन आवाजाही शुरू की जाएगी। लेकिन राज्य के भीतर यात्री ट्रेन सेवा 15 सितम्बर तक बंद रहेगी। फिर हालात की समीक्षा करने के बाद राज्य में रेल सेवा बहाल करने पर निर्णय किया जाएगा।

ये सब खुलेंगे
- जिलों में परिवहन के लिए ई-पास की अनिवार्यता नहीं
- सभी धार्मिक व प्रार्थना स्थल खुलेंगे। एसओपी की पालना करनी होगी। अधिकतम संख्या तय रहेगी। रात 8 बजे तक होंगे दर्शन।
- 1 सितम्बर से जिलों के भीतर निजी व सार्वजनिक बस सेवाएं। चेन्नई महानगर में भी होंगी शुरू। एसओपी की पालना के साथ।
- शॉपिंग मॉल्स, शो-रूम, बिग फार्मेट स्टोर सौ प्रतिशत कर्मचारियों के साथ। (एसी संबंधी शर्तों की पालना)
- चेन्नई सहित राज्यभर की सभी दुकानें रात 8 बजे तक
- आवासीय होटल, रिसोर्ट, मनोरंजन क्लब और अन्य क्लब एसओपी के साथ।
- जिम, प्रशिक्षण केंद्र, पार्क, खेल मैदान
- कौशल व उद्यमिता विकास केंंद्र 21 सितम्बर से
- 75 सदस्यों के साथ फिल्म शूटिंग की अनुमति
- 25 के बजाय 50 विमान सेवाओं को अनुमति

इनमें छूट नहीं
- बाहरी राज्यों व विदेशों से आने वाले लोगों को लेना होगा ई-पास
- मॉल्स के भीतर के सिनेमाघर रहेंगे बंद
- खेल मैदान में दर्शकों को अनुमति नहीं
- राज्यभर में धारा १४४ रहेगी लागू
- कंटेनमेंट जोन में कोई छूट नहीं

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned