मद्रास हाईकोर्ट के दखल से शिक्षिका को 22 साल बाद फिर मिलेगी नियुक्ति

मद्रास हाईकोर्ट के दखल से शिक्षिका को 22 साल बाद फिर मिलेगी नियुक्ति

Ritesh Ranjan | Updated: 25 Mar 2019, 02:19:37 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

मद्रास हाईकोर्ट के दखल के बाद तमिलनाडु सरकार एक 40 वर्षीया शिक्षिका सुधा को बहाल करने को तैयार हो गई है।

चेन्नई. मद्रास हाईकोर्ट के दखल के बाद तमिलनाडु सरकार एक 40 वर्षीया शिक्षिका सुधा को बहाल करने को तैयार हो गई है। सरकार ने 22 साल पहले उसे नौकरी से निकाल दिया था। मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा। इस मामले का फैसला सरकार के खिलाफ आया, लेकिन इसके बाद भी राज्य सरकार सुधा को बहाल नहीं कर रही थी। गत वर्ष 6 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार की याचिका को खारिज करके आदेश दिया था कि सुधा को फिर से बहाल किया जाए। सरकार द्वारा फैसले का पालन नहीं करने पर शिक्षिका ने हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल कर दी। सुधा ने चेन्नई से स्कूली शिक्षा हासिल करने के बाद केरल से टीचर ट्रेनिंग का डिप्लोमा हासिल किया था। तमिलनाडु सरकार ने 1992 में सेकंड ग्रेड टीचरों की नियुक्ति के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे जिसमें दूसरे राज्यों के निवासी भी आवेदन कर सकते थे। इसमें सुधा की नियुक्ति हुई और 24 जुलाई १995 को सुधा को पुदुकोट्टै के कादयमपट्टी सरकारी स्कूल में नियुक्ति दी गई। 29 मई 1997 को शिक्षा विभाग ने उसकी सेवाएं इस आधार पर समाप्त कर दी, क्योंकि उसने टीचर ट्रेनिंग का डिप्लोमा केरल से हासिल किया था। सरकार ने इसे मान्यता देने से इनकार कर दिया।
सुधा ने 2009 में मद्रास हाईकोर्ट में याचिका दायर की। हालांकि, पहली बार में इसे ठीक तरीके से पेश नहीं किए जाने की वजह से खारिज कर दिया गया। याचिका में सरकार के उस जवाब को आधार बनाया गया, जिसमें कहा गया कि सुधा ने खुद ही स्कूल आना बंद कर दिया था।
याचिका खारिज करने के फैसले को सुधा ने चुनौती दी। कोर्ट ने उसकी अपील को स्वीकार करते हुए राज्य सरकार को आदेश दिया कि सुधा को फिर से बहाल किया जाए।
सुधा ने हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल करके अपील की कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के मुताबिक उसे फिर से नियुक्त किया जाए और कोर्ट की अवमानना करने वाले अफसरों पर कार्रवाई की जानी चाहिए।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned