समाज को साक्षर बनाने में शिक्षक की भूमिका अहम

समाज को साक्षर बनाने में शिक्षक की भूमिका अहम

MAGAN DARMOLA | Updated: 12 Jun 2019, 05:34:07 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

वीआईटी में दसवीं व बारहवीं में सौ फीसदी परिणाम लाने वाले राजकीय स्कूल के प्रधानाचार्यों का सम्मान

वेलूर. यहां काटपाडी स्थित वीआईटी विश्वविद्यालय में मंगलवार को इस वर्ष दसवीं एवं बारहवीं की परीक्षा में सौ फीसदी परिणाम लाने वाले राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों व प्रधानाचार्यों के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का उद्घाटन कलक्टर रामण ने किया। इस मौके पर उन्होंने संबोधित करते हुए कहा कि देश के विकास एवं समाज को साक्षर कर विकसित करने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी शिक्षकों की ही है। शिक्षा के विकास के मुददे पर जिला शिक्षा विभाग शिक्षकों को अपना पूरा सहयोग दे रहा है। शिक्षकों का दायित्व बनता है कि वे छात्रों को समुचित शिक्षा देकर देश के विकास में अपना योगदान दें। प्रधानाचार्य के जरिए शिक्षकों के सहयोग से ही राजकीय स्कूलों में जनता में अपने बच्चों को पढ़ाने का विश्वास जगाया जा सकता है।

विश्वविद्यालय के कुलपति जी.विश्वनादन ने कहा देश के विकास में शिक्षकों की भूमिका काफी अहम है। अच्छे शिक्षक अच्छे विद्यालयों की पहचान होती है। शिक्षकों को भी अपने कर्तव्य का निर्वहन ईमानदारी से करना चाहिए। विद्यार्थियों को दसवीं कक्षा व बाद का अध्ययन उनके जीवन की दिशा तय करता है। वीआईटी विवि भी शिक्षा के विकास के लिए स्टार योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर लेकिन प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को नि:शुल्क शिक्षा देती आ रही है। इस योजना के तहत उच्च शिक्षा ग्रहण करने वाले दो विधार्थी अमेजन एवं गूगल में अच्छे वेतन पर काम कर रहे हैं। समारोह में सौ फीसदी परिणाम लाने वाले जिले के 68 राजकीय विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर वीआईटी के उपाध्यक्ष शेखर विश्वनादन, सहायक उपकुलपति नारायणन, जिला शिक्षा अधिकारी माक्र्स भी उपस्थित थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned