मृत्युदण्ड को आजीवन कैद में बदला

मृत्युदण्ड को आजीवन कैद में बदला
chennai news

Shankar Sharma | Publish: Jun, 11 2016 11:44:00 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

मद्रास हाईकोर्ट ने शुक्रवार को डबल मर्डर केस में मृत्युदण्ड पाए हत्यारे की सजा आजीवन कैद में बदल दी

चेन्नई. मद्रास हाईकोर्ट ने शुक्रवार को डबल मर्डर केस में मृत्युदण्ड पाए हत्यारे की सजा आजीवन कैद में बदल दी। न्यायाधीश एस. नागमुत्तु और जस्टिस वी. भारतीदासन की खण्डपीठ ने आंशिक रूप से याचिका को स्वीकारते हुए कहा कि यह हत्याकांड गंभीर से गंभीरतम श्रेणी में नहीं आता।

यह मामला कोयम्बत्तूर जिले के संगम गांव के रहने वाले राजीव गांधी का है जिसने जमीनी विवाद में 11 फरवरी 2012 के दिन दो महिलाओं की हत्या कर दी। ट्रायल कोर्ट ने राजीव गांधी को मौत की सजा सुनाई। इस सजा के खिलाफ याची ने हाईकोर्ट में अपील की।

बीस साल तक काटनी होगी सजा
खण्डपीठ ने फैसला देते हुए कहा कि हम मौत की सजा की पुष्टि नहीं कर पा रहे हैं। लेकिन साथ ही यह मानते हैं कि दो महिलाओं की हत्या जघन्य और नृशंस थी जो सामान्य व्यक्ति नहीं कर सकता। हम इसलिए सजा को आजीवन कारावास में बदलते हैं। बहरहाल, हाईकोर्ट ने यह भी निर्देश जारी किया कि कैदी को बीस साल तक की सजा काटनी होगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned