Tamilnadu: अब मलबे को निर्माण योग्य बनाएगा निगम

चेन्नई महानगर निगम (Corporation) अब मलबे को निर्माण कार्य में काम लेने के योग्य बनाएगा। इसके लिए विशेष मशीनें खरीदी गई है।

चेन्नई. चेन्नई महानगर निगम अब मलबे को निर्माण कार्य में काम लेने के योग्य बनाएगा। इसके लिए विशेष मशीनें खरीदी गई है। अक्सर लोग मकान के निर्माण कार्य के दौरान मलबा हर कहीं डाल देते हैं। हालांकि निगम ने सभी 15 जोन में ऐसे मलबे के संग्रहण के लिए स्थल बना रखे हैं लेकिन अधिकांश लोग इन जगहों से अनभिज्ञ है। पेरुन्गुडी एवं कोडूनगियूर में दो रिसाइकिल इकाइयों की स्थापना की है। इन मशीनों की मदद से मलबे में उपयोगी सामग्री को अलग किया जा सकेगा जो फिर से काम में लिया जा सकेगा।

हर रोज करीब चार सौ टन मलबा
महानगर में हर रोज करीब चार सौ टन मलबा इकट्ठा हो जाता है। इस मलबे को किसी खाली भूखण्ड में डाल दिया जाता है। हालांकि हर कहीं मलबा डालने पर निगम की ओर से लोगों पर जुर्माना भी लादा गया है। निगम का कहना है कि हर जोन में अलग से स्थल बनाया गया है लेकिन लोग किसी खाली भूखण्ड या सूखे जलाशयों में मलबा डाल देते हैं।

दोनों की संयुक्त क्षमता 1200 टन

हालांकि बड़ी इमारतें बनाने वाले अक्सर ऐसा नहीं करते लेकिन छोटी इमारतों वाले मलबे को कहीं भी डाल देते हैं। निगम के 1 से 8 तक जोन के मलबा कोडूनगियूर तथा जोन 9 से 15 तक पेरुन्गुडी में डाल सकते हैं। इन दोनों की संयुक्त क्षमता 1200 टन है।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned