scriptTN Assembly, governor, Mk Stalin, Governor's Security, AIADMK Walkout | मईलाडुदुरै में हुए प्रदर्शन के दौरान राज्यपाल पर धूल का एक कण भी नहीं गिरा : सीएम | Patrika News

मईलाडुदुरै में हुए प्रदर्शन के दौरान राज्यपाल पर धूल का एक कण भी नहीं गिरा : सीएम

  • गवर्नर के नाम पर विपक्षी दल का राजनीति करने का प्रयास राजनीति नहीं होगी फलदायी : स्टालिन
  • राज्यपाल की सुरक्षा के साथ समझौते के आरोप में अन्नाद्रमुक ने विधानसभा से किया वॉकआउट
  • मुख्यमंत्री ने एडीजीपी (कानून-व्यवस्था) के हवाले से कहा कि इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है कि मईलाडुदुरै जिले में एक मठ की यात्रा के दौरान राज्यपाल के काफिले पर पत्थर और झंडे फेंके गए

 

चेन्नई

Published: April 20, 2022 08:20:13 pm

चेन्नई. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने बुधवार को कहा कि मईलाडुदुरै में राज्यपाल आरएन रवि के खिलाफ काले झंडे के विरोध के दौरान उन पर "धूल का एक कण" भी नहीं गिरा। विपक्षी दल अन्नाद्रमुक के इस मामले पर राजनीति करने का प्रयास फलदायी साबित नहीं होगा। स्टालिन ने इस मसले पर उनका जवाब सुनने से पहले विपक्ष के वॉकआउट कर जाने पर चुटकी भी ली।
चिन्ना रेड्डी का प्रसंग

मईलाडुदुरै में हुए प्रदर्शन के दौरान राज्यपाल पर धूल का एक कण भी नहीं गिरा : सीएम
अन्नाद्रमुक पर निशाना साधते हुए स्टालिन ने कहा, "विपक्ष ने इसे राजनीति करने के एक मौके के रूप में देखा जो राजनीतिक दलों के लिए बेहद सामान्य बात है"

सीएम स्टालिन ने उनके सरकार पर लगे आरोप के पलटवार में अन्नाद्रमुक को 90 के दशक में तत्कालीन राज्यपाल चिन्ना रेड्डी के काफिले पर हुए तथाकथित हमले का स्मरण कराया कि उस वक्त सत्ता की बागडोर अन्नाद्रमुक के हाथ में थी। तब राज्यपाल को वापस बुलाए जाने को लेकर सदन में प्रस्ताव भी पारित किया गया था।

नहीं हुआ पथराव

मुख्यमंत्री ने एडीजीपी (कानून-व्यवस्था) के हवाले से कहा कि इस दावे में कोई सच्चाई नहीं है कि मंगलवार को मईलाडुदुरै जिले में एक मठ की यात्रा के दौरान राज्यपाल रवि के काफिले पर पत्थर और झंडे फेंके गए। जबकि विपक्ष के नेता और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के. अण्णामलै ने ऐसा आरोप लगाया था। स्टालिन ने आरोपों को "निराधार" बताते हुए खारिज कर दिया। उनके अनुसार पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे और प्रदर्शनकारियों को निश्चित दूरी पर रोक दिया गया था। बाद में, जब उन्हें गिरफ्तार कर वैन में ले जाया गया तो बहस शुरू हुई। फिर उन्होंने प्लास्टिक के पाइप में बंधे काले झंडे लहराए। राज्यपाल के एडीसी (ऐड-डी-कैम्प) ने भी डीजीपी को लिखा है कि काफिला सुरक्षित निकल गया था।

अन्नाद्रमुक पर निशाना

अन्नाद्रमुक पर निशाना साधते हुए स्टालिन ने कहा, "विपक्ष ने इसे राजनीति करने के एक मौके के रूप में देखा जो राजनीतिक दलों के लिए बेहद सामान्य बात है"। इस मसले पर अन्नाद्रमुक समन्वयक ओ पन्नीरसेल्वम और संयुक्त समन्वयक पलनीस्वामी के अलग-अलग बयान इसके पर्याप्त सबूत हैं कि मसले के राजनीतिकरण का प्रयास हुआ है।

सुरक्षा में आईजी और 6 एसपी

स्टालिन ने राज्यपाल के लिए किए गए सुरक्षा उपायों का सदन में विवरण पेश किया कि मध्य क्षेत्र के आईजी, दो डीआईजी और 6 एसपी अधिकारियों सहित 1200 पुलिसकर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था में तैनात किया गया था। "भले ही विरोध लोकतांत्रिक रहा हो, लेकिन इस सरकार ने राज्यपाल की सुरक्षा के लिए उचित कदम उठाए हैं। यह सरकार राज्यपाल की सुरक्षा सुनिश्चित करने में कोई समझौता नहीं करेगी। विपक्ष के नेता और उप नेता को लगता है कि वे राज्यपाल का इस्तेमाल कर इस मामले पर राजनीति कर सकते हैं। वे यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि यह द्रमुक सरकार ऐसा कतई नहीं होगा।

विधानसभा से अन्नाद्रमुक ने किया वॉकआउट

मईलाडुदुरै में हुए प्रदर्शन के दौरान राज्यपाल पर धूल का एक कण भी नहीं गिरा : सीएम

इससे पूर्व शून्य काल में प्रमुख प्रतिपक्षी दलों अन्नाद्रमुक और भाजपा ने राज्यपाल के काफिले को काले झंडे दिखाकर विरोध प्रदर्शन करने के मामले को सुरक्षा से समझौता बताते हुए डीएमके सरकार पर निशाना साधा था। विपक्षी दल के नेता ईके पलनीस्वामी ने सदन में बुधवार को यह मसला उठाया था और फिर पार्टी सदस्यों ने सहयोगी दल भाजपा के साथ वॉक आउट किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.