तमिलनाडु सरकार ने 31 अक्टूबर तक धार्मिक उत्सव व राजनीतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाया

राज्य सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि सितम्बर-अक्तूबर महीने में कोविड की तीसरी लहर देखी जा सकती है।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 10 Sep 2021, 04:02 PM IST

चेन्नई.

तमिनलाडु सरकार ने लोगों से आग्रह किया कि वे 31 अक्टूबर तक सामाजिक और सांस्कृतिक उत्सव अपने घरों पर ही मनाए और कोविड दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करें। आदेश में मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान के सुझाव के बाद राज्य सरकार ने राजनीतिक, सामाजिक और सांस्कृतिक त्योहारों और जनसभा कार्यक्रमों पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है।

राज्य सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि सितम्बर-अक्तूबर महीने में कोविड की तीसरी लहर देखी जा सकती है। सरकार ने कहा है कि नौवीं से बारहवीं तक के छात्रों के लिए स्कूल वैकल्पिक कार्य पर काम कर सकते हैं। वहीं सरकार टीकाकरण कार्यक्रमों में भी तेजी लेकर आई है और एक दिन में पांच लाख लोगों को टीका लगाने की योजना बनाई है।

कोविड-19 और निपाह वायरस के प्रकोप से जूझ रहे पड़ोसी राज्य केरल की ओर इशारा करते हुए स्टालिन ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के प्रयास में विनायक चतुर्थी सहित सार्वजनिक स्थानों पर धार्मिक त्योहारों के उत्सव पर प्रतिबंध लगा दिया है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपने घरों में सुरक्षा के साथ त्योहार मनाने का आग्रह किया। भीड़ वाली जगहों और अनावश्यक यात्रा से बचें। कोविड-19 सुरक्षा सावधानियों का पालन करें।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned