प्रधानमंत्री के खिलाफ टिप्पणी करने के आरोप में भाजपा ने उदयनिधि के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ टिप्पणी करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए भाजपा की प्रदेशा इकाई ने चुनाव आयोग को उदयनिधि के खिलाफ शिकायत दर्ज कर उनकी उम्मीदवारी को रद्द करने की मांग की

By: Vishal Kesharwani

Published: 03 Apr 2021, 07:13 PM IST


ेचेन्नई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ टिप्पणी करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए भाजपा की प्रदेशा इकाई ने चुनाव आयोग को उदयनिधि के खिलाफ शिकायत दर्ज कर उनकी उम्मीदवारी को रद्द करने की मांग की। उदयनिधि स्टालिन ने कहा था कि प्रधानमंत्री द्वारा साइड किए जाने के बाद भाजपा नेता सुषमा स्वराज और अरुण जेटली का निधन हो गया था। धर्मपुरम में बुधवार को चुनाव प्रचार करने के दौरान उदयनिधि ने यह टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि मोदी के मानसिक प्रताडऩा की वजह से सषमा स्वराज और जेटली का निधन हुआ था।

 

जिसके बाद भजपा के राज्य प्रदेशाध्यक्ष और पार्टी प्रवक्ता व एडवोकेट केटी राघवन ने बताया कि भाजपा के कुछ पदाधिकारियों ने पहले ही मुख्य चुनाव अधिकारी से मुलाकात कर औपचारिक शिकायत कर उदयनिधि के उम्मीदवारी को रदद् करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सम्मानित भाजपा नेता स्वर्गीय सुषमा स्वराज और अरुण जेटली के खिलाफ ऐसी टिप्पणी करने के आरोप में आयोग को उदयनिधि को चुनाव लडऩे से रोक देना चाहिए। इस प्रकार की टिप्पणी सख्ती से निंदनीय है, जिसके लिए पुलिस आयुक्त के पास उदयनिधि के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज कराए गए हैं।

 

उदयनिधि की इस प्रकार की टिप्पणी के बाद दोनो नेताओं की बेटियों ने तत्काल प्रतिक्रिया करते हुए बयान को झूठा बताया था। सुषमा स्वराज की बेटी बंसुरी स्वराज ने कहा था कि उदयनिधि की टिप्पणी पूरी तरह से गलत है। अरुण जेटली की बेटी सोनाली जेटली ने भी उदयनिधि के बयान की निंदा कर इसे गलत करार दिया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और भाजपा एक परिवार की तरह है। मेरे पिता और प्रधानमंत्री की राजनीति से परे व्यक्तिगत संबंध थे।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned