तमिलनाडु सरकार ने पिछले साल शराब की बिक्री से 33,811 करोड़ रुपए की कमाई

तस्माक ने पिछले वित्तवर्ष में 33,811.14 करोड़ रुपए का कर राजस्व प्राप्त किया, जो वित्तवर्ष 2015 में अर्जित 33,133.24 करोड़ रुपए से अधिक था।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 07 Sep 2021, 07:31 PM IST

चेन्नई.

वैश्विक कोरोना महामारी के दौरान तमिलनाडु में शराब की खूब बिक्री हुई। तस्माक दुकानों के बाहर लम्बी लम्बी कतारों में लगे लोगों ने राज्य सरकार के झोली में करोड़ों रुपए का राजस्व जुटाने में मदद की। तमिलनाडु स्टेट मार्केटिंग कॉर्पोरेशन लिमिटेड (तस्माक) ने अपने 5,402 शराब खुदरा वेंडिंग आउटलेट से पिछले वित्तवर्ष में राज्य सरकार के लिए 33,811.14 करोड़ रुपए का कर राजस्व अर्जित किया।

विधानसभा में अपने विभाग के लिए अनुदान की मांग को आगे बढ़ाते हुए बिजली, मद्य निषेध और आबकारी मंत्री वी. सेंथिल बालाजी ने कहा कि तस्माक ने पिछले वित्तवर्ष में 33,811.14 करोड़ रुपए का कर राजस्व प्राप्त किया, जो वित्तवर्ष 2015 में अर्जित 33,133.24 करोड़ रुपए से अधिक था।

चालू वित्तवर्ष के दौरान 31 जुलाई तक तस्माक का राजस्व लगभग 7,907.61 करोड़ रुपए रहा। कैशलेस लेन-देन को प्रोत्साहित करने के लिए सभी खुदरा दुकानों में इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से बिक्री राशि के भुगतान के लिए पॉइंट ऑफ सेल (पीओएस) मशीनें लगाई गई हैं। सेंथिल बालाजी ने यह भी कहा कि सरकार ने सुधारित अवैध शराब निर्माताओं को एक अलग पेशा में सक्षम बनाने के लिए 5 करोड़ रुपये का कोष स्थापित किया है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned