TNPSC घोटाले का प्रमुख आरोपी जयकुमार पुलिस रिमांड पर

TNPSC Scame accused jayakumar ने साइदापेट कोर्ट के समक्ष अपने वकील की उपस्थिति में आत्मसमर्पण कर दिया । जयकुमार की गिरफ्तारी पर पुलिस ने एक लाख का इनाम भी रखा था। जयकुमार ने अपने बयान में कहा कि उसका टीएनपीएससी के घोटाले से कोई संबंध नहीं है।

By: shivali agrawal

Updated: 06 Feb 2020, 05:26 PM IST

चेन्नई. सीबी-सीआइडी पुलिस ने 2017 में आयोजित तमिलनाडु लोक सेवा आयोग TNPSC की ग्रुप 2-ए की परीक्षा में हुई धांधली के सिलसिले में अपना शिकंजा कस दिया है आज इस मामले में बडा मोड आया जब कि मुख्य साजिशकर्ता जयकुमार ने साइदापेट कोर्ट के समक्ष अपने वकील की उपस्थिति में आत्मसमर्पण कर दिया । उसे Police ने आगे की पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया है। जयकुमार की गिरफ्तारी पर पुलिस ने एक लाख का इनाम भी रखा था। जयकुमार ने अपने बयान में कहा कि उसका टीएनपीएससी के घोटाले से कोई संबंध नहीं है।

जयकुमार के दो एजेंटों सहित तीन जनों को बुधवार को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार एजेंट तमिलनाडु सशस्त्र बल के सिपाही हैं। तीसरा शख्स रुपए देकर पास हुआ अभ्यर्थी है जो वाणिज्यिक कर विभाग में सेवारत है।

आयोग की ओर से 31 जनवरी को सीबी-सीआइडी को शिकायत दर्ज कराई गई कि 2017 में ग्रुप 2-ए की परीक्षा में 42 अभ्यर्थी फर्जीवाड़ा कर पास हुए। इसके बाद हुई जांच में इस घोटाले के 13 आरोपियों और ग्रुप-4 परीक्षा धांधली के 16 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। इस मामले में अब तक 34 जनों को गिरफ्तार किया है।

Show More
shivali agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned