-मरने वालों की संख्या पहुंची ११

तेनी जिले में कुरंगनी के जंगलों में लगी आग का मामला
एक और झुलसी युवती ने दम तोड़ा

By: P S Kumar

Published: 13 Mar 2018, 06:53 PM IST

चेन्नई.

हाल ही तेनी जिले के कुरंगनी के जंगलों में लगी आग की चपेट में आने से मंगलवार को एक और युवती ने दम तोड़ दिया। इसके साथ ही इस अग्निकांड की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या 11 तक पहुंच गई है। मृतका की पहचान ईरोड निवासी दिव्या (२९) के तौर पर की गई है, जिसका मदुरै के राजाजी सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा था। अधिकारियों ने बताया कि दोपहर में उसकी मौत हुई है। गौरतलब है कि रविवार को ३६ ट्रेकर्स का एक गुट कुरंगनी के जंगलों में लगी आग में फंस गया था। इस अग्निकांड की चपेट में आने से नौ लोगों की जंगल में ही मौत हो गई थी जबकि एक अन्य ने सोमवार को मदुरै में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। गंभीर रूप से घायलों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

ट्रेकिंग को रोकने के बजाय सुरक्षा पर दें ध्यान: कमल हासन
अभिनेता कमल हासन ने सोमवार को कहा कि तेनी जिले के बोडि के निकट पहाड़ी वन्य क्षेत्र में लगे भीषण आग में फंसे लोगों की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकार काफी बेहतर कदम उठा रही हैं। यहां अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कुरंगनी जंगल में १० लोगों की हुई मौत से राज्य सरकार को सीख लेते हुए वन विभाग के खाली जगहों की भर्ती की ओर कदम उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा बताया जा रहा है कि इस हादसे में मरने वाले और घायलों में सिर्फ युवा ही शामिल है। इस प्रकार से हम लोगों ने आग के कारण अपने भविष्य के एक हिस्से को खो दिया। ऐसे हालातों के बाद हमे टे्रकिंग गतिविधियों को रोकना नहीं बल्कि भविष्य में और सुरक्षा प्रदान करने पर विचार करना चाहिए। कमल ने कहा कि लोगों को वन और प्रकृति का सम्मान करना सीखना चाहिए। बहुत सारे लोग जंगलों में पार्टी करने के उद्देश्य से जाते हैं और वहीं पर बोतल और कचरे को फेंक कर चले आते हैं। मैंने एक हाथी के फोटो को भी देखा था जिसकी टूटे हुए बोतल की चपेट में आने से मौत हो गई थी।

P S Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned