मतदाताओं ने खुद को 20 के टोकन में बेचा : कमल हासन

आर. के. नगर उपचुनाव में खरीदी गई जीत, एआईएडीएमके व दिनकरण पर साधा निशाना

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 04 Jan 2018, 08:53 PM IST

चेन्नई.

अभिनेता कमल हासन का आरोप है कि आर. के. नगर विधानसभा उपचुनाव में जीत खरीदी गई है। उन्होंने मतदाताओं पर भी हमला बोला कि वे २० रुपए के टोकन में बिक गए।


गौरतलब है कि उपचुनाव के दौरान आरोप लगा था कि दिनकरण के समर्थकों द्वारा कथित तौर पर मतदाताओं में बांटे गए २० रुपए के टोकन से चुनाव बाद उनको भुगतान किया जाएगा। इसका हवाला देते हुए कमल हासन ने कहा कि सत्तारूढ़ एआईएडीएमके ने मतदाताओं को ६ हजार रुपए दिए। वहीं उपचुनाव में विजयी रहे निर्दलीय उम्मीदवार दिनकरण ने कथित रूप से प्रत्येक वोट के लिए २० हजार रुपए दिए।

इस वजह से मतदाताओं ने उनको वोट दिया।
कमल हासन ने कहा खुद को २० रुपए के टोकन में बेचना किसी चोर के आगे भीख मांगने के बराबर है। इससे बदतर हालात भला और क्या हो सकते हैं? गौरतलब है कि कमल हासन की इस टिप्पणी के एक दिन पहले आर. के. नगर के नवनिर्वाचित विधायक दिनकरण ने विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं से मुलाकात कर उन्हें धन्यवाद दिया था।

कमल हासन पर पलटवार
अभिनेता कमल हासन की टिप्पणी की आलोचना करते हुए सत्तारूढ़ पार्टी और दिनकरण ने मतदाताओं को रिश्वत वाले आरोपों से इनकार किया।


आर.के. नगर विधायक दिनकरण ने कहा कि कमल हासन की इस टिप्पणी वे कड़ी आलोचना करते हैं। उन्हें लगता था कि कमल हासन काफी सज्जन व्यक्ति हैं लेकिन उनकी यह टिप्पणी खेदजनक है। उनको इस बात का अफसोस है कि वे कमल हासन के बारे में अच्छी राय रखते थे।

इससे पहले एआईएडीएमके के वरिष्ठ नेता और राज्य के मत्स्य पालन मंत्री डी. जयकुमार ने कहा कि पार्टी ने पैसे पर नहीं बल्कि आर. के. नगर विधानसभा क्षेत्र के लोगों पर भरोशा कर उपचुनाव लड़ा था। ऐसे में कमल हासन का आरोप निंदनीय है। मतदाताओं में रुपए बांटने का वादा हमने नहीं बल्कि दिनकरण गुट ने किया था। उन्होंने सवाल किया कि क्या कमल हासन डीएमके पर इस तरह का आरोप लगा सकते हैं?

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned