इनपुट टैक्स क्रेडिट को लेकर अब हड़ताल करेंगे वीवर्स

इनपुट टैक्स क्रेडिट रिफंड नहीं मिलने के कारण वीवर्स अलग-अलग ढंग से विरोध व्यक्त कर रहे हैं। पिछले दिनों फोगवा ने सूरत में कपड़ा मंत्री स्मृति...

By: मुकेश शर्मा

Published: 12 Oct 2018, 11:01 PM IST

सूरत।इनपुट टैक्स क्रेडिट रिफंड नहीं मिलने के कारण वीवर्स अलग-अलग ढंग से विरोध व्यक्त कर रहे हैं। पिछले दिनों फोगवा ने सूरत में कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के कार्यक्रम में काले झंडे लहरा कर विरोध किया था। अब अंजनी इंडस्ट्रियल एस्टेट के वीवर्स ने अनिश्चितकालीन हड़ताल करने की चेतावनी दी है।

अंंजनी इंडस्ट्रियल एस्टेट के प्रमुख विजय मांगुकिया ने बताया कि जीएसटी लागू होने के बाद सूरत के वीवर्स लगातार सरकार से इनपुट टैक्स क्रेडिट रिफंड करने या एडजस्ट करने की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन सरकार ढुल-मुल रवैया अपना रही है। इस बारे में वह स्थानीय नेताओं से लेकर केंद्रीय मंत्रियों तक गुहार लगा चुके हैं, लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला। सोमवार को अंजनी इंडस्ट्रियल एस्टेट के वीवर्स की मीटिंग में सर्वसम्मति से तय किया गया कि यदि उन्हें इनपुट टैक्स क्रेडिट रिफंड नहीं मिला तो आने वाले दिनों में वह कारखाने अनिश्चितकाल के लिए बंद रखेंगे। वीवर्स सत्तापक्ष और विपक्ष के समक्ष अपनी बात रखेंगे और आवश्यकता पड़ी तो उपवास पर भी बैठेंगे।

केंद्र सरकार की ओर से वीवर्स का इनपुट टैक्स क्रेडिट लैप्स करने से नाराज वीवर्स की संस्था फोगवा ने इससे पहलेजीएसटीआर-3बी का बहिष्कार करने का फैसला किया था। फोगवा की ओर से शहर की कई इंडस्ट्रियल सोसायटियों में जीएसटीआर-3बी के बहिष्कार के पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर में बताया गया है कि केंद्र सरकार ने वीवर्स को इनपुट टैक्स क्रेडिट नहीं देने का फैसला किया है, जो गलत है। इस फैसले को नहीं बदला गया तो वीवर्स जीएसटीआर-3बी का बहिष्कार करेंगे।

इसके अलावा पोस्टर में महाराष्ट्र की तर्ज पर गुजरात में भी वीवर्स को कम कीमत पर बिजली मुहैया कराने की मांग की गई। फोगवा के मयूर गोलवाला के मुताबिक इनपुट टैक्स क्रेडिट का रिफंड नहीं मिलने से वीवर्स नाराज हैं। कई क्षेत्रों में जीएसटी रिटर्न का बहिष्कार किया जा रहा है। पिछले हफ्ते वराछा, लसकाणा, पांडेसरा, बमरोली रोड सहित कई क्षेत्रों में जीएसटी रिटर्न का बहिष्कार करने के पोस्टर लगाए गए।

 

मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned