कभी देखा हैं समस्या समाधान का ऐसा तरीका !

ये क्या ! समस्या समाधान के लिए नाचना पड़ा ,आदिवासियों के समाधि स्थल की जमीन पर किया रसूखदारों ने कब्जा

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 22 May 2018, 12:44 PM IST

प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करने के लिए आदिवासियों महिलाओं ने अनूठा उपाय आजमाया,एक बारगी तो वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी उनके अनूठे प्रदर्शन से स मोहित हो गए। मीडिया कर्मी भी उनकी ओर लपक लिए

कोयम्ब त्तूर. यहां आयोजित जनसुनवाई में अपनी मांगों की ओर प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करने के लिए आदिवासियों महिलाओं ने अनूठा उपाय आजमाया। मनक्कडावू से आए आदिवासियों के दल में शामिल महिलाओं ने जिला कलक्ट्रेट के सामने पर नृत्य किया। वे अपने साथ ढोल व तुरही वादक भी साथ लाए थे। आते ही उन्होंने नाच गा कर समां बांध दिया। एक बारगी तो वहां मौजूद पुलिसकर्मी भी उनके अनूठे प्रदर्शन से स मोहित हो गए। मीडिया कर्मी भी उनकी ओर लपक लिए। नाच के बाद उन्होंने अपनी पीड़ा बताई।महिलाओं ने कहा कि उनके गांव में आदिवासियों के समाधि स्थल की भूमि पर दबंग लोग कब्जा करते जा रहे हैं। यदि यही हालत रही तो उनके सामने मुर्दो को दफनाने के लिए जगह का संकट खड़ा हो जाएगा। महिलाओं ने बताया कि स्थानीय स्तर पर प्रशासन को कई बार बताया जा चुका है, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। कब्जा करने वाले रसूखदार हैं। ऐसे में उन्हें जनसुनवाई के लिए यहां आना पड़ा। प्रशासन और मीडिया का ध्यान अपनी मांग की ओर आकृष्ट करने के लिए उनके पास पर परागत कला के प्रदर्शन के अलावा कोई चारा नहीं था। बाद में उन्होंने जिला कलक्टर टीएन हरिहरण से को अपनी समस्या के बारे में ज्ञापन दिया। आदिवासियों ने उम्मी द जताई कि अब उनके समाधि स्थल से कब्जा हटाने की प्रक्रिया शुरु हो जाएगी।

 

मुकुन्द अध्यक्ष, हेमंत सचिव
कोच्चि. जनकल्याण सोसायटी कोच्चि की वार्षिक आम सभा में वर्ष 2019-20के लिए पदाधिकारियों का चुनाव किया गया। चुनाव में मुकुन्द आर मेहता अध्यक्ष ,हेमंत बारनवाल सचिव, नरेन्द्र कुमार कोषाध्यक्ष , रमेश अग्रवाल उपाध्यक्ष व अनिल अग्रवाल संयुक्त सचिव चुने गए। साथ ही ११ सदस्यीय कार्यकारिणी गठित की गई।

 

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned