डीएमके की जीतने की खुशी में महिला ने काट ली अपनी जीभ, देवता को अर्पित किया

एमके स्टालिन के नेतृत्व में डीएमके ने स्पष्ट बहुमत के साथ जीत हासिल की है।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 03 May 2021, 05:14 PM IST

रामनाथपुरम.

तमिलनाडु के रामानाथापुरम में एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है। यहां सोमवार सुबह एक महिला ने अपनी जीभ काट ली और एक मंदिर में देवता को अर्पित कर दिया। महिला ने चुनावों में डीएमके की प्रचण्ड जीत के बाद अपनी जीभ काटी है। जीभ की बलि देने के बाद ही महिला के मुंह से खून बहने लगा और कुछ ही देर में उसकी हालत खराब हो गई, जिस वजह से महिला वहीं बेहोश हो गई। महिला को बेहोश देख कुछ लोगों ने उसे आनन फानन में अस्पताल पहुंचा दिया।

खुशी में अपनी जीभ काटी
अंधविश्वास की शिकार महिला का नाम वनिता बताया जा रहा है। वनिता 32 साल की हैं। वनिता ने जाहिर तौर पर 2021 के विधानसभा चुनाव में डीएमके की जीत होने पर अपनी जीभ काटने का संकल्प लिया था। उसने कहा था कि, ऐसा हुआ तो अपनी जीभ का ईश्वर के समक्ष बलिदान करूंगी। ज्ञातव्य है कि तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में द्रविड़ मुनेत्र कडग़म (डीएमके) को जीत मिली। जीत की अपनी मन्नत पूरी होने पर यहां एक महिला ने अपनी खुशी में अपनी जीभ काटी। उसके बाद अपना वादा पूरा करते हुए कटी हुई जीभ को उसने एक मंदिर में देवता को अर्पित कर दिया।

वनिता की मन्नत भी पूरी हुई
रविवार को जब तमिलनाडु विधानसभा चुनावों के नतीजे आए तब इसमें डीएमके ने बाजी मार ली। इसके साथ ही वनिता की मन्नत भी पूरी हो गई। अपनी मन्नत पूरी होने के बाद वनिता सोमवार सुबह मुथाल्लन स्थित उसी मंदिर पहुंची जहां उसने डीएमके की जीत की मन्नत मांगी थी, लेकिन महिला जब मंदिर पहुंची तब मंदिर बंद था। क्योंकि कोरोना के कारण तमिलनाडु में इस समय धार्मिक स्थलों में किसी बाहरी व्यक्ति के अंदर जाने की मनाही है। इसलिए महिला ने जब मंदिर के द्वार बंद देखे। तो उसने मंदिर के बाहर ही अपनी जीभ की बलि दे दी।

एक दशक लंबी समयावधि के बाद डीएमके तमिलनाडु में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी एआईएडीएमके पर प्रचंड जीत हासिल की है। तमिलनाडु का सत्ताधारी दल अब विपक्षी दल बन गया है। वहीं, एमके स्टालिन के नेतृत्व में डीएमके ने स्पष्ट बहुमत के साथ जीत हासिल की है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned