अब बालिकाएं बनेंगी आत्मनिर्भर

बालिकाओं को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में बढ़ा रहा कदम, एस.एस. महिला विद्या संघ की पहल

By: Ashok Rajpurohit

Published: 07 Jul 2019, 05:25 PM IST

चेन्नई. अब बालिकाओं को आर्ट एण्ड क्राफ्ट के साथ ही अन्य विद्याओं में पारंगत बनाया जाएगा। एस.एस. महिला विद्या संघ बालिकाओं को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में कदम बढ़ा रहा है। इसके लिए बालिकाओं को प्रति सप्ताह तीन घंटे नि:शुल्क प्रशिक्षण मुहैया करवाया जाएगा। शुरुआत गणेशबाई गेलड़ा स्कूल की छात्राओं से की जाएगी। स्कूल में करीब पौने सात सौ बालिकाएं अध्ययनरत है। दसवीं एवं बारहवीं की छात्राओं को छोड़कर अन्य सभी छात्राओं को शनिवार को तीन घंटे लगने वाली कक्षा में अनिवार्य रूप से शामिल होना होगा। छात्राओं में आत्मविश्वास पैदा करने, सकारात्मक सोच विकसित करने, डर भगाने, जोश एवं मजबूती के साथ आगे बढऩे के तरीके बताए जाएंगे। इसके साथ ही मेहन्दी, रहन-सहन, सेल्फ डिफेंस के बारे में भी पारंगत बनाया जाएगा। समय-समय पर बैंकिंग सेक्टर, डिफेंस समेत अन्य स्थलों के बारे में भी प्रैक्टिकल जानकारी मुहैया करवाई जाएगी। इन बालिकाओं को ग्राम्यांचलों में कृषि कार्यों की बारीकियों से भी अवगत करवाया जाएगा। गणेशबाई गेलड़ा स्कूल के करसपोन्डेन्ट एडवोकेट महावीर बोहरा ने बताया कि बालिकाओं को अध्ययन के साथ ही अन्य विद्याओं में भी निपुण करने के मकसद से यह अनूठी पहल शुरू की गई है। इसके लिए बकायदा विषय विशेषज्ञ इन बालिकाओं को प्रशिक्षण प्रदान करेंगे।
गणेशबाई गेलड़ा स्कूल में इस तरह के कार्यक्रम के उद्घाटन अवसर पर एस.एस. महिला विद्या संघ के दौलतराज बांठिया ने कहा कि इस तरह की रचनात्मक गतिविधियों का स्कूली स्तर से ही बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि आगे करियर बनाने में भी आसानी रह सकें। इस मौके पर इन विशेष कक्षाओं का संचालन करने वाली पूनम चौपड़ा, आनन्दी छाजेड़, पिंकी भंडारी व मेघना जैन ने भी अपने विचार रखे। गणेशबाई गेलड़ा स्कूल की प्रधानाचार्य निशा ने स्वागत भाषण दिया। कोषाध्यक्ष महेन्द्र कुंकुंलोद ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर संघ के पूर्व सचिव जतनमल नाहर, संघ की संयुक्त सचिव कमलादेवी मेहता, पूर्व सचिव श्रेणिकराज बोहरा, मांगीकंवर स्कूल के संयुक्त सचिव रणजीत बाफना, देवेन्द्र बेताला, पदमा बोहरा, मांगीकंवर अन्नराज चौरडिय़ा स्कूल की प्रधानाध्यापिका श्यामला समेत अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।
.........

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned