100 रुपए प्रति किलोग्राम प्याज के दाम होने से खरीदारी पर असर

किलोग्राम की जगह अब पाव में खरीदी कर रहे लोग

 


छतरपुर. प्याज के दाम फुटकर में 100 रुपए प्रतिकिलोग्राम होने का असर खरीदारी पर पडऩे लगा है। किलोग्राम में प्याज खरीदने वाले लोग अब एक पाव प्याज खरीद रहे हैं। वहीं, क्विंटल में स्टॉक रखने वाले फुटकर दुकानदार भी अब कुछ किलोग्राम ही स्टॉक दुकान पर रखे हुए हैं। इसके अलावा मशालेदार खाना खाने के शौकीन लोग प्याज के बढ़े दामों के चलते कम ग्रेवी वाली सब्जी से काम चला रहे हैं। जिले के किसानों की प्याज भी बाहर से आने वाली प्याज की तरह महंगी बिक रही है।
सब्जी दुकानदार छोटी बाई कुशवाहा ने बताया कि प्याज के दाम 15 दिन पहले तक 40 से 50 रुपए प्रतिकिलोग्राम फु टकर में रहे। बीच में एक बार दाम 80 रुपए तक गए,लेकिन फिर 50 के आसपास ही दाम रहे। लेकिन पिछले चार दिन से प्याज के दाम बहुत बढ़ गए हैं। थोक में प्याज 85 से 90 रुपए प्रतिकिलोग्राम में मिल रही है। इसलिए फुटकर में इसके दाम 100 रुपए पहुंच गए हैं। रवि कुशवाहा ने बताया कि किसानों जो भी थोड़ी बहुत प्याज उगाते हैं, वे भी ज्यादा दाम को देखते हुए उसी भाव में बेच रहे हैं। लोकल हो या बाहर, सभी प्याज के दाम बढ़े हुए हैं। ज्यादा दाम होने से हमारी लागत बढ़ रही है, इसलिए हम भी दुकान पर अब ज्यादा स्टॉक नहीं रख रहे। कल्लू सब्जीवाले में बताया कि प्याज के दाम में इतनी तेजी आने से किसान कच्ची प्याज को ही खेत से निकालकर बाजार ला रहे हैं, क्योंकि अभी उन्हें प्याज के दाम ज्यादा मिल रहे हैं।सब्जी खरीदने पन्ना नाका सब्जी बाजार पहुंचे नितिन खरे ने बताया कि प्याज के दाम 15 दिन पहले के दाम से दोगुने हो गए हैं। प्याज खाना बनाने के लिए मूलभूत जरुरत होती है। इसलिए खरीदना तो पड़ती ही है, लेकिन अब किलोग्राम की जगह एक पाव में काम चला रहे हैं। संजय त्रिपाठी ने बताया कि पुरानी प्याद या छोटी साइज की प्याज जरूरी 80 से 90 रुपए किलोग्राम के बीच मिल जा रही है। लेकिन उसकी क्वालिटी थोड़ा खराब है। इसलिए 100 रुपए प्रतिकिलोग्राम वाली प्याज लेना ही मजबूरी है। इन दिनों घर में प्याज की खपत कम कर दी है।

हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned