script1800 meter long flyover approved from Akashvani Tiraha to Mahoba Road | आकाशवाणी तिराहा से महोबा रोड तिराहा तक 1800 मीटर लंबा फ्लाइओवर मंजूर | Patrika News

आकाशवाणी तिराहा से महोबा रोड तिराहा तक 1800 मीटर लंबा फ्लाइओवर मंजूर

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री ने दी 90 करोड़ की लागत के शहर के पहले फ्लाइओवर को मंजूरी
दो नेशनल हाइवे एक साथ मिलने से हर 10 मिनट पर लगता है जाम, 24 घन्टे में 10 हज़ार वाहनों का आना जाना

छतरपुर

Updated: August 02, 2022 06:40:58 pm

छतरपुर. शहर के पहले फ्लाइओवर निर्माण को मंजूरी मिलने के साथ ही स्थान भी तय हो गया है। केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने छतरपुर शहर में आकाशवाणी तिराहा से महोबा रोड तिराहा तक 1800 मीटर लंबा फ्लाइओवर निर्माण को मंजूरी दे दी है। 90 करोड़ की लागत से सड़क के दोनों ओर फ्लाइओवर का निर्माण किया जाएगा। इससे शहर से गुजरने वाले दो नेशनल हाइवे के ट्रैफिक से शहर के यातायात की मुसीबत कम हो जाएगी।
 नए सिरे से बनेगा डीपीआर
नए सिरे से बनेगा डीपीआर

नए सिरे से बनेगा डीपीआर
मंत्री से मंजूरी के बाद नए सिरे से डीपीआर निर्माण की कवायद शुरु हो गई है। पहले 600 मीटर का फ्लाइओवर बनाया जाना था, जिसके लिए दो अलग-अलग स्थान चिंहित किए गए थे। केन्द्र सरकार की सेतु बंधन योजना के तहत आकाशवाणी तिराहा से यूनिवर्सिटी तिराहा व नौगांव रोड का प्रस्ताव भी बनाया गया था। इन्ही दो स्थानों में से किसी एक जगह शहर का पहला फ्लाइ ओवर बनाया जाना था, लेकिन बाद में आकाशवाणी तिराह से महोबा रोड तक ज्यादा समस्या को देखते हुए वहां का प्रस्ताव भेजा गया, जिसकी मंजूरी हो गई है। अब नए सिरे से डीपीआर बनाया जाएगा। इसके लिए लोकनिर्माण विभाग ने प्रक्रिया शुरु कर दी है।
जवाहर मार्ग पर दो हाइवे का प्रेशर होगा कम
लेकिन अब फ्लाइओवर की लंबाई बढऩे से एक ही फ्लाइओवर में शहर के जवाहर मार्ग पर ट्रैफिक का प्रेशर कम हो जाएगा। शहर में सागर-कानपुर और रीवा-ग्वालियर नेशनल हाइवे एक साथ जवाहर मार्ग पर जुड़ते हैं। जिससे भारी व सभी तरह के वाहनों की भारी संख्या के चलते ट्रैफिक जाम की समस्या होती है। नेशनल हाइवे द्वारा वर्ष 2018 में किए गए सर्वे में शहर के जवाहर मार्ग से रोजाना 10 हजार छोटे-बड़े वाहनों का आवागमन पाया गया। वाहनों की इतनी संख्या के मुकाबले सड़क की चौड़ाई कम पड़ जाती है। जिससे जाम की समस्या होती है, लेकिन फ्लाइओवर बनने से ट्रैफिक का दबाव कम होगा।
केन्द्र सरकार के खर्च से तीन साल में बनेगा
शहर का पहला फ्लाइ ओवर केन्द्र सरकार की योजना के खर्च से तीन साल में बनाया जाएगा। इसके निर्माण की सारी राशि केन्द्र सरकार द्वारा वहन की जाएगी। वहीं इसके लिए जरूरी भूमि के अधिग्रहण का खर्च राज्य सरकार उठाएगी। पूरे प्रदेश में इस तरह के 21 फ्लाइओवर को मंजूरी मिली है, जिसमें छतरपुर शहर भी शामिल है।
इनका कहना है
फ्लाइओवर के लिए डीपीआर बनाया जाएगा। अनुमानित लागत 90 करोड़ रुपए है। डीपीआर मंजूरी के बाद आगे की प्रक्रिया जल्द ही शुरु होगी।
आरएस शुक्ला, इइ, पीडब्ल्यूडी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक आज: KCR ने भी किया बायकॉट, नीतीश कुमार नहीं होंगे शामिलइसरो रचने जा रहा है इतिहास, आज नया रॉकेट SSLV होगा लॉन्च, जानें इसकी खासियतेंक्यूबा में बड़ा हादसा, तेल टैंक पर आकाशीय बिजली गिरने से लगी भीषण आग, 80 लोग जख्मी, 17 दमकलकर्मी लापताMaharashtra Politics: कैबिनेट विस्तार में देरी और सचिवों के अधिकार को लेकर विपक्ष ने बोला सरकार पर हमला, CMO ने कही ये बातVice President Election Result: जगदीप धनखड़ बने देश के 16वें उपराष्ट्रपति, मार्गरेट अल्वा को 346 वोटों से हरायाराजस्थान के इस गांव में बीता जगदीप धनखड़ का बचपन, परिवार के रुतबे की गवाह है पुश्तेनी हवेलीबिहारः JDU को डूबता हुआ जहाज बता RCP सिंह ने दिया इस्तीफा, मंत्री रहते अकूत संपत्ति अर्जित करने का लगा है आरोपवो आवाज केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की नहीं...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.