558 पंचायतों में 32,800 मजदूरों को मिला काम

संभागायुक्त ने मनरेगा कार्यों की समीक्षा की

 

छतरपुर. सागर संभागायुक्त अजय सिंह गंगवार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में कोविड-19 एवं मनरेगा योजना की समीक्षा के लिए बैठक हुई। बैठक के दौरान संभागायुक्त गंगवार ने छतरपुर जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु की गई स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. विजय पथौरिया से जिले में कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों, जिले में बनाए गए कोविड केयर सेंटर, आईसोलेशन वार्ड, फीवर क्लीनिक और अन्य विषयों पर जानकारी लेकर शासन द्वारा जारी कोविड-19 गाइडलाइन के अनुसार गतिविधियां क्रियान्वित करने के संबंध में निर्देश दिए।
कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह ने बैठक में बताया कि जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हैं एवं जिला प्रशासन द्वारा डोर टू डोर सर्वे, ऑपरेशन पहचान, संजीवनी वाहन आदि अभियान भी चलाए जा रहे हैं, जिनके जरिए हम कोरोना संक्रमण को फैलने से काफी हद तक रोक पाएं हैं। उन्होंने सीएमएचओ डा. पथौरिया को निर्देशित किया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरत के अनुसार पैरामेडिकल स्टॉफ नियुक्त किया जाए।
संभागायुक्त गंगवार द्वारा जिले में मनरेगा योजना अंतर्गत चल रहे कार्यों की समीक्षा भी की गई। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत हिमांशु चन्द्र द्वारा बताया गया कि जिले में 558 ग्राम पंचायतों के अंतर्गत लगभग 32 हजार 800 मजदूरों को मनरेगा योजना के तहत रोजगार उपलब्ध कराया गया है।
अन्य राज्यों से वापस लौटे प्रवासी मजदूरों को स्वास्थ्य परीक्षण उपरांत मनरेगा अंतर्गत रोजगा प्रदाय किया जा रहा है। जिले में वर्तमान में कुल 5 हजार 720 प्रवासी मजदूरों को मनरेगा योजना के तहत रोजगार के अवसर प्रदान किए गए हैं। जिला प्रशासन द्वारा सभी मजदूरों को समय पर भुगतान उपलब्ध कराया जा रहा है। मनरेगा योजनांतर्गत जिले में कुल 5 हजार 455 निर्माण कार्य कराए जा रहे हैं।
फसल के जरिए बढ़ाए किसानों की आमदनी
कमिश्नर गंगवार ने बताया कि मनरेगा अंतर्गत किए जा रहे प्लांटेशन के कार्यों में वैकल्पिक फसलों को प्राथमिकता देना किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके अलावा अंर्तवर्ती फसलों के माध्यम से किसानों की आमदनी कई गुना बढ़ाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि मनरेगा अंतर्गत गरीब और जरूरतमंद लोगों को रोजगार के अधिकाधिक मौके उपलब्ध कराएं। निर्माण कार्यों में मशीनों की बजाए श्रमिकों से कार्य कराने का भी विशेष ध्यान रखें। बैठक में पुलिस अधीक्षक कुमार सौरभ, उपायुक्त राजस्व प्रभा श्रीवास्तव, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डा. डी.के. यादव, एसडीएम प्रियांशी भंवर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

हामिद खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned